REWA : नए साल पर चिरहुला मंदिर में बदमाशों ने टीआई की पत्नी समेत तीन महिलाओं की चेन खींची, दर्जन लोगों के मोबाइल व पर्स गायब

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा। नए साल की शुरूआत भगवान के दर्शन के साथ करने वाले लोगों की खुशियों पर बदमाशों ने पानी फेर दिया। शहर के प्रसिद्ध चिरहुला मंदिर में उमड़ी भीड़ का बदमाशों ने जमकर फायदा उठाया। टीआई की पत्नी समेत तीन महिलाओं की चेन खींच ली और दो दर्जन लोगों के मोबाइल व पर्स निकाल लिये। पीडि़तों ने पुलिस के पास पहुुंचकर आवेदन दिये है।

चिरहुला मंदिर में सुबह उमडऩे लगी थी भीड़

चिरहुला मंदिर में एक जनवरी को काफी संख्या में लोगों की भीड़ एकत्र थी। सुबह से ही मंदिर परिसर में लोगों को पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। दिन भर मंदिर में अच्छी खासी भीड़ एकत्र रही। इसका फायदा उठाकर बदमाशों ने भीड़ जमकर हांथ साफ किया। मंदिर में दर्शन करने आई टीआई एसके द्विवेदी की पत्नी के गले से चेन खींच गई। वहीं दो अन्य महिलाएं भी शिकार बनी और उनके गले से भी बदमाशों ने चेन खींच ली। हालांकि उनके साथ घटना महिलाओं की भीड़ के बीच हुई जिससे घटना में महिला चोरों का हांथ होने की आशंका जताई जा रही है। वहीं दो दर्जन लोगों के मोबाइल व पर्स चोरी हो गए।

कई लोगों के मोबाइल व पर्स चोरी

अनिल कुमार गुप्ता निवासी चकड़ौर जिला सीधी, द्वारिका सिंह, सुनील सिंह निवासी मझिगवां सहित अन्य लोगों के मोबाइल मंदिर परिसर से चोरी हो गए। वहीं कई लोगों के पार्स भी बदमाशों ने निकाले है जिसमें रुपए सहित उनके दस्तावेज रखे हुए थे। भीड़भाड़ में धक्का-मुक्की कर आराम से बदमाश अपनी कारगुजारियों को अंजाम देते रहे। मंदिर परिसर में पुलिस बल भी तैनात था लेकिन इतनी अधिक भीड़ को नियंत्रित करने में ही पुलिस जूझती रही जिसका फायदा उठाकर बदमाशों ने घटनाओं को अंजाम दिया है। पीडि़तों ने थाने पहुंचकर शिकायतें दर्ज कराई है जिस पर पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है।

तीन लाख लोगों ने मंदिर में किये दर्शन, रात तक लगा रहा तांता

चिरहुला मंदिर में शनिवार को भक्तों की अपार भीड़ देखने को मिली। दरअसल नए साल का पहला दिन शनिवार को पड़ा था जिसके चलते मंदिर में उम्मीद से ज्यादा भीड़ एकत्र हो गई। सुबहसे ही मंदिर में लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था जो दिन भर जारी रहा। मंदिर में करीब तीन लाख लोगों के दर्शन करने की उम्मीद जताई जा रही है। मंदिर परिसर में व्यवस्था बनवाने के लिए थाना प्रभारी जगदीश सिंह ठाकुर सहित पुलिस बल मौजूद रहा। पुलिस ने फोरव्हीलर वाहनों को बाहर ही रुकवा दिया था और पार्किंग स्थल में बाइकों को खड़ा करवाया था। आसपास के ग्रामीण इलाकों से भी काफी संख्या में लोग ट्रैक्टरों में सवार होकर मंदिर आए थे।

Powered by Blogger.