SATNA : शादी से 16 दिन पहले युवती ने जहर खाकर दी जान : वजह जान उड़ जाएंगे होश


कोटर थाना क्षेत्र के ग्राम तिहाई में रहने वाली एक युवती ने अपनी शादी से 16 दिन पहले जहर निगल कर अपनी जान दे दी। युवती की मौत की वजह गांव के ही एक परिवार की प्रताड़ना बताई जा रही है। उसके बाबा ने पुलिस से शिकायत करते हुए अपनी नातिन की मौत के लिए जिम्मेदार लोगों के नाम भी बताए हैं। पुलिस जांच कर रही है। तिहाई निवासी पयासी परिवार की युवती की जहर निगलने से मौत हो गई। उसके माता पिता की पहले ही मौत हो चुकी है। वह अपनी बहन के साथ अपने बाबा के पास रहती थी। 

उसकी शादी 18 फरवरी को होने वाली थी। युवती भी खुश थी। घर मे शादी की तैयारियां चल रही थीं। लेकिन इसी बीच मंगलवार को उसने जहर निगल लिया,उसे जिला अस्पताल लाया गया जहां बुधवार को उसकी मौत हो गई।

मृतका के बाबा लल्लू प्रसाद पयासी ने पुलिस को मौत की वजह बताते हुए गांव के ही जानकी शरण द्विवेदी को उसके लिए जिम्मेदार ठहराया है। लल्लू के मुताबिक जानकी शरण द्विवेदी उसकी नातिन को परेशान करता था,धमकियां देता था। कई बार उसने कट्टा दिखाकर भी धमकाया था। 

वह उसकी शादी नही होने देना चाहता था,कहता था कि अगर उसकी शादी होगी तो उसी के साथ होगी वरना वो घर मे आग लगा देगा और घर वालो को मार कर बोरे में भर देगा। मृतका उससे परेशान रहती थी। शादी तय होने के बाद जानकी शरण के पिता अंगिस प्रसाद से भी लल्लू प्रसाद ने बात की थी और उससे जानकी को समझाने के लिए कहा था लेकिन उसने हाथ खड़े कर लिए थे। जानकी शरण को उसकी चाची जनक दुलारी और दोनों चचेरे भाई रोहित तथा बालेन्द्र भी शह देते थे। 

लल्लू ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि मंगलवार को भी जानकी शरण ने मेरी नातिन को धमकाया था। उसने धमकी दी थी कि अगर किसी और से उसने शादी की तो वो मंडप में आग लगा देगा। इसी घटना के बाद उसने जहर निगल लिया और आखिरकार उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है।

Powered by Blogger.