REWA : संजय गाँधी में पार्किंग में नई शर्तों के साथ शुरू होगा ठेका : 24 घंटे तक एक ही दर पर कर सकेंगे वसूली, पर्ची भी इलेक्ट्रानिक मशीन से देनी होगी

रीवा। हर समय वाहन पार्किंग में शुल्क वसूली को लेकर विवादों में रहने वाले संजयगांधी अस्पताल में नई व्यवस्थाएं बनाई जाएंगी। मेडिकल कालेज प्रबंधन ने इसके लिए टेंडर भी जारी कर दिया है और कई नई शर्तें भी जोड़ी हैं और कहा है कि उनके विपरीत जाकर काम करने पर संबंधित ठेकेदार के विरुद्ध कार्रवाई होगी। पूर्व में वाहन पार्किंग का ठेका लेने वाले की मनमानी के कारण कई शिकायतें सामने आई थी, इसको लेकर कलेक्टर ने भी नाराजगी जाहिर की थी। जिसके चलते ठेका निरस्त करते हुए संबंधित को ब्लैक लिस्टेड भी कर दिया गया था। अब नए सिरे से टेंडर भी जारी कर दिया गया है। जिसमें कहा गया है कि २४ घंटे तक पार्किंग स्टैंड में वाहन एक बार में खड़ा करने का शुल्क लिया जाएगा। इसके पहले यदि कोई ले जाता तो भी उतनी ही राशि देनी होगी। 

दोपहिया वाहनों से दस रुपए और चार पहिया वाहनों से २० रुपए का शुल्क वसूला जा सकेगा। साइकिलों को पाॢकंग शुल्क से मुक्त रखा गया है। जबकि इसके पहले जो ठेकेदार ठेका लेते रहे हैं, वह साइकिलों से भी पांच रुपए की वसूली करते थे। साथ ही दस रुपए का दोपहिया वाहनों से शुल्क प्रतिघंटे के हिसाब से वसूलते थे। यदि किसी मरीज के परिजन का वाहन चार से पांच घंटे खड़ा रह जाता था उससे अतिरिक्त वसूली करते थे। इसी को लेकर आए दिन वहां पर मारपीट और विवाद की घटनाएं होती थी। जब तक नए सिरे से ठेकेदार की नियुक्ति नहीं होगी तब तक पार्किंग नि:शुल्क ही रहेगी। गत दिवस संभागायुक्त अनिल सुचारी ने अधिकारियों की बैठक लेकर कहा कि वाहनों को व्यवस्थित तरीके से खड़ा करने के लिए संजयगांधी और गांधी स्मारक अस्पतालों के सुरक्षाकर्मियों को ही इसमें लगाया जाए।

ठेकेदार के कर्मचारी कर रहे वसूली

मेडिकल कालेज के अस्पतालों में प्रबंधन ने चाहे भले ही वाहन पार्किंग ठेकेदार को हटा दिया है। लेकिन उसके कर्मचारी अब भी अस्पताल आने वाले मरीजों के परिजनों से वसूली कर रहे हैं। अधिकांश लोग अभी यह भी नहीं जानते कि यहां पर किसे पार्किंग शुल्क वसूलने की जि मेदारी सौंपी गई है। हालांकि कुछ लोगों ने यह आपत्ति दर्ज कराई है कि वह अधिक रुपए नहीं देंगे। बताया जाता है कि राशि के समय पर अधिक सं या में पूर्व के ठेकेदार के कर्मचारी लोगों से वसूली करते हैं और अभद्रता भी कर रहे हैं।

Powered by Blogger.