REWA : पीटीएस से पीके स्कूल मार्ग पर में 45 लोगों का अतिक्रमण तोड़ा : भाजपा पार्षद ने स्वयं हटवाई बाउंड्रीवाल

रीवा। आपको बता दें कि पूर्व कलेक्टर इलैया राजा टी के कार्यकाल में अतिक्रमण को लेकर ताबड़तोड़ कार्यवाही की गई थी जहां अतिक्रमणकारियों में खलबली मची हुई थी वहीं जगह-जगह भरे बाजार में अतिक्रमण किया गया था जहां पूर्व कलेक्टर द्वारा इस पर ताबड़तोड़ कार्यवाही की गई आपको बता दें कि हाल ही में पीटीएस चौराहा से पीके स्कूल के पास सड़क का चौड़ीकरण होना है जहां चौड़ीकरण को लेकर शहर के पीके स्कूल से लेकर PTS चौराहे तक अतिक्रमण की कार्रवाई की गई वहां पूर्व में भी मोहल्ले वासियों को अल्टीमेटम भी दिया गया था घर के बाहर का अवैध कब्जे को बाउंड्रीवाल को खुद से हटा लें अन्यथा प्रशासन अपनी कार्यवाही करेगा।

आपको बता दें कि कल बड़ी संख्या में लोगों के सड़क पर मकान, बाउंड्रीवाल, रैंप आदि जैसे निर्माण कर रखा था जिस पर निगम का बुलडोजर चला।

यह कार्रवाई पुलिस बल और निगम वालों के साथ की गई जहां कई कब्जेदार मकान और बाउंड्री को तोड़ा गया कई नेता मथानी से जुड़े लोग के यहां भी कार्रवाई की गई जिनके द्वारा पूरा जोर शोर भी  लगाया गया. वहीं कुछ लोगों की बिना मौजूदगी में निगम का बुलडोजर नहीं चला उनको यह कहा गया कि जल्द से जल्द अपने अतिक्रमण को हटा लें अन्यथा प्रशासन अपनी ओर से कार्यवाही करने में पीछे नहीं हटेगा।

आपको बता दें कि नगर निगम की इस बड़ी कार्यवाही में नायब तहसीलदार यतीश शुक्ला, समान थाने के पुलिस बल के साथ निगम के कई आला अधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पूर्व कलेक्टर इलैया राजा टी के कार्यकाल में अतिक्रमणकारियों पर जहां खलबली मची हुई थी वहां पूर्व कलेक्टर के जाते ही पुनः अतिक्रमणकारियों को बढ़ावा मिलना चालू हो गया जहां शासन के नियमों को अनदेखा करते हुए लगातार अवैध कब्जे किए जा रहे हैं जिस पर कार्यवाही भी की जा रही है वही हाल ही में आए दिन भर इमारतों में अतिक्रमण कार्यों को लेकर लगातार कार्यवाही की जा रही है वहीं दूसरी ओर यातायात को सुगम बनाने सड़कों पर पुलिस शक्ति से दौड़ रही है।

जानकारी के लिए आपको बता देगी पूर्व में द्वारिका नगर में अभय मिश्रा के घर के आस-पास वह ग्राउंड परिसर के समीप कई कब्जा धारियों के मकान को निगम द्वारा गिराया गया है. वही यह कार्यवाही पुनः चालू की गई है जहां पीके स्कूल के पीछे से लेकर PTS चौराहे तक 45 अतिक्रमण हटाए गए हैं जिसमें बाउंड्रीवॉल, मकान, रैंप आदि जैसे पर निगम का बुलडोजर चला है।

आपको बता दें कि कुछ नेता मथानी से अपनी पकड़ का इस्तेमाल कर रहे हैं जहां पूर्व में एक मकान को जमींदोज कर दिया गया था वही निगम के बुलडोजर चलने के बाद पुनः कब्जे को बढ़ावा दिया गया वहीं उक्त कार्यवाही को लेकर लोगों के मन में यह सवाल उठ रहे हैं कि किसके संरक्षण में यह कब्जा किया गया आखिरकार निगम अतिक्रमण की कार्यवाही ऐसे क्यों कर रहा है यह तो आने वाला समय ही बताएगा। 

वहीं निगम की इस कार्यवाही से लोगों द्वारा यह भी बताया गया है कि बिना किसी नोटिस के हमारे घर में जेसीबी चलाई गई है जहां मोहल्ले वासियों द्वारा यह जानकारी भी दी गई है कि निगम प्रशासन ने बिना नोटिस के ही  हमारी बाउंड्रीवाल, हमारे मकान पर जेसीबी चलाई है जिसकी हम कड़ी निंदा करते हैं हम कोर्ट जाएंगे और निगम के खिलाफ कार्यवाही करेंगे।

वर्जन 

आपको बता दें की द्वारिका नगर के मोहल्लेवासियों कहना है हमारे घर की बाउंड्रीवॉल को निगम द्वारा जेसीबी के माध्यम से गिरा दिया गया है जहां हमें किसी प्रकार की कोई नोटिस या  कोई जानकारी नहीं दी गई थी. प्रशासन की इस कार्यवाही व जबरन हमारे घर की बाउंड्रीवाल को गिराना जो कि किसी प्रकार का कब्जा नहीं है हमारे घर की रजिस्ट्री है रजिस्ट्री के मुताबिक हमने किसी प्रकार का कोई कब्जा नहीं किया है। 

Powered by Blogger.