MP Vyapam scam: युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़! पुलिस भर्ती परीक्षा में छात्र को क्वालिफाइड से कर दिया अनक्वालिफाइड, बोला इकलौता हूं आवाज उठाऊंगा तो पीछे पड़ जाएंगे...

व्यापमं (नया नाम PEB) ने कॉन्स्टेबल एग्जाम का रिजल्ट जारी किया है। एग्जाम देने वाले एक कैंडिडेट विकास मीणा का दावा है कि पहले तो रिजल्ट में उन्हें क्वालिफाइड बताया गया, लेकिन बाद में नॉटक्वालिफाईड कर दिया गया। विकास ने मीडिया के साथ उस रिजल्ट को भी शेयर किया, जिसमें उसे 'क्वालिफाइड' बताया गया था।

विकास खातेगांव तहसील के बहुत छोटे से गांव जूनापानी के रहने वाले हैं। विकास की पढ़ाई के लिए पिता ने ढाई में से 2 एकड़ जमीन गिरवी रखी थी। विकास के माता-पिता अब मजदूरी करने को मजबूर हैं। परिवार में विकास से बड़ी एक बहन है, जिसकी शादी हो चुकी है। विकास अभी हरदा के डिग्री कॉलेज से B.Sc (सीड टेक्नोलॉजी) फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रहा है। सेल्फ स्टडी से UPSC की तैयारी कर रहा है।

भोपाल के उम्मीदवार ने इसे लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट भी की, लेकिन बाद में हटा ली। उसने किसी तरह की शिकायत करने से भी मना कर दिया। उसने कहा- मैं नहीं चाहता कि लोग मेरे पीछे पड़ जाएं। मैं परिवार का इकलौता बेटा हूं। मेरे माता-पिता ने भी इस मामले से दूर रहने के लिए कहा है। गड़बड़ी तो हुई है, लेकिन मैं इस मामले में नहीं पड़ना चाहता हूं। 

देवास के कैंडिडेट ने सोशल मीडिया पर डाली मार्कशीट

देवास के उम्मीदवार की क्वालिफाई और नॉट क्वालिफाई की मार्कशीट को सोशल मीडिया पर व्यापमं घोटाले का मुद्दा उठाने वाले व्हिसिल ब्लोअर आनंद राय ने पोस्ट की। इस मामले को लेकर दैनिक भास्कर ने अधिकारियों से बात करने का प्रयास किया, तो उन्होंने चुप्पी साध ली। PEB के कंट्रोलर डीके अग्रवाल ने न तो फोन रिसीव किया और न ही SMS का जवाब दिया।


8000 पदों के लिए हुई थी परीक्षा

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा पुलिस मुख्यालय, गृह (पुलिस) विभाग, मध्यप्रदेश शासन के आरक्षक संवर्ग की भर्ती के लिए चयन परीक्षा-2020 (ऑनलाइन परीक्षा) का आयोजन 8 जनवरी 2022 से 17 फरवरी 2022 तक 13 शहरों में किया गया था। पुलिस मुख्यालय द्वारा अंतिम रूप से उपलब्ध कराए गए सीधी भर्ती के कुल 8000 रिक्त पदों के लिए ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया गया था।

31 हजार कैंडिडे्टस दूसरे राउंड के लिए पात्र

इसमें होमगार्ड अभ्यर्थियों सहित (रिक्त पदों का 5 गुना) कुल 31 हजार 208 अभ्यर्थी द्वितीय चरण की परीक्षा के लिए पात्र हुए हैं। परीक्षा के बाद 18 फरवरी 2022 को आदर्श उत्तर वेबसाइट पर अपलोड कर अभ्यर्थियों से अभ्यावेदन आमंत्रित किए गए थे। इसमें प्राप्त अभ्यावेदनों पर अंतिम उत्तर समिति के विषय विशेषज्ञों द्वारा समग्र रूप से विचार/अध्ययन कर अंतिम उत्तर को अंतिम रूप दिया गया। इसके आधार पर नार्मलाइजेशन पद्धति अनुसार परीक्षा परिणाम तैयार किया गया।

विकास ने बताया- 28 जनवरी को ऑनलाइन परीक्षा हुई थी। उसमें मेरे 77 नंबर आए थे। 24 मार्च को 10 बजे उसका रिजल्ट आया, मैंने करीब 11 बजे रिजल्ट देखा। उसमें मुझे क्वालिफाइड बताया था, लेकिन जब 25 मार्च को मेरे एक दोस्त ने मेरा रिजल्ट देखा तो उसमें मुझे नॉट क्वालिफाईड बताया गया। OBC वर्ग के लिए कट ऑफ 68 नंबर है और मेरे 77 नंबर आए हैं, यानी कट ऑफ से 9 नंबर ज्यादा। इसकी शिकायत मुझे कहां करनी चाहिए, इस बारे में मुझे जानकारी नहीं है, इसलिए मैं कलेक्टर से मिलने देवास जा रहा हूं।

Powered by Blogger.