MP LIVE : सीएम शिवराज ने किया बड़ा ऐलान : माफिया और गुंडों की जमीनों पर अब गरीबों को मिलेंगे प्लॉट


मध्यप्रदेश में माफिया और गुंडों की जमीनों पर अब गरीबों को प्लॉट दिए जाएंगे। यहां लोग मकान बना सकेंगे। ये ऐलान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया है। सीएम ने शनिवार को कलेक्टर- कमिश्नर कॉन्फ्रेंस में अफसरों को माफिया के खिलाफ की गई कार्रवाई की जानकारी सार्वजनिक करने के लिए कहा। ये भी कहा कि प्रदेश में अवैध रूप से रहने वाले बांग्लादेशियों की भी तलाशी की जाए। उन्होंने माफिया और गुंडों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखने के निर्देश भी दिए।

अजब गजब : बॉयफ्रेंड उधारी चुकाने लूट की वारदात करता तो गर्लफ्रेंड फिर ब्याज पर रुपए लेकर जमानत पर छुड़ा लाती

इन दिनों प्रदेश में गुंडे, बदमाश, भूमाफिया पर सख्त कार्रवाई की जा रही है। भोपाल, खरगोन, इंदौर, झाबुआ, टीकमगढ़ में भू माफियाओं के खिलाफ सबसे ज्यादा कार्रवाई की गई हैं। कलेक्टर-कमिश्नर कॉन्फ्रेंस ने सीएम ने निर्देश दिए कि माफिया को तोड़कर उनका नेटवर्क ध्वस्त कर दें। अपराधियों को अधिकतम सजा मिले, इसका ध्यान रखें।

सतना के युवक ने किया हैदराबाद की इंजीनियर युवती से किया रेप : सोशल मीडिया में दोस्ती कर बनाया हवस का शिकार, 3 साल में लिए 20 लाख

जनता के सामने रखें आंकड़े

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों की तलाशी की जाए, सभी सतर्क रहें। सभी जिलों में माफिया से मुक्त कराई गई जमीन के आंकड़े जनता के सामने रखें। इन जमीनों का उपयोग गरीबों के प्लाॅट काटने में होगा। कार्रवाई की साइंटिफिक ग्रेडिंग कीजिए। ये कार्रवाई गुंडों को तोड़ देगी। कलेक्टर-एसपी जिलों में हुई कार्रवाई के इम्पैक्ट के बारे में बताएं। जब आशियाना टूटता है, तो अपराधी अपराध करने के पहले कई बार सोचेगा। ये मुख्यमंत्री का लाउड एंड क्लियर मैसेज है।

पिछले तीन महीने में 671 करोड़ की जमीन मुक्त कराई

(01 जनवरी से 31 मार्च 2022 तक)

कार्रवाई                                                                                 संख्या

भूमाफिया पर दर्ज किए गए प्रकरण                                         1791

तोडे गए अवैध अतिक्रमण                                                           3814

मुक्त कराई गई कुल भूमि                                                     2243.80 एकड़

तीन माह में मुक्त कराई गई भूमि की अनुमानित कीमत 671.61 करोड़ रुपये

रासुका और जिला बदर की कार्रवाई

- NSA प्रकरण (प्रस्तावित) - 5

- एनएसए प्रकरण (आदेशित)- 5

- जिला बदर प्रकरण (प्रस्तावित)- 4

- जिला बदर प्रकरण (आदेशित)- 18

यहां भूमाफियाओं पर ज्यादा कार्रवाई :

भोपाल, खरगोन, इंदौर, झाबुआ, टीकमगढ़

यहां सबसे कम कार्रवाई की गई

डिंडोरी, नरसिंहपुर, सीधी, शिवपुरी, सतना, होशंगाबाद, कटनी, शाजापुर, सागर में सबसे कम केस दर्ज हुए हैं।

ये जिले सबसे पीछे- कटनी, आलीराजपुर, सीधी, डिंडौरी, शाजापुर।

खनन माफिया- अवैध रेत परिवहन, उत्‍खनन की कार्रवाई

खनन माफिया से जुड़े मामले                    संख्या

कुल प्रकरण                                             3,531

गिरफ्तार आरोपी                                      857

जब्त रेत की मात्रा (घन मीटर में)                   1,24,989

चारपहिया जब्त वाहनों की संख्‍या            3,490

चार पहिया वाहन राजसात हुए                    28

अवैध संपत्ति/अतिक्रमण ध्वस्त-                     15

(ग्‍वालियर, गुना, शिवपुरी, अशोकनगर, धार, खंडवा, बुरहानपुर, अलीराजपुर, विदिशा, दमोह, छिंदवाड़ा, देवास व बैतूल)

एनएसए -1

जिला बदर- 3

अन्य कार्रवाई- 20

महिला अपराध रोकने अच्छी कार्रवाई करने वाले जिले

भोपाल, खरगोन, खंडवा, इंदौर, जबलपुर

महिला अपराधों में इन जिलों को सुधार की जरूरत

रतलाम, छतरपुर, दमोह, हरदा, उज्जैन

महिला हेल्प डेस्क की कार्रवाई - अप्रैल - 2012 से मार्च - 2022 तक

पंजीकृत अपराध- 30,375

कार्रवाई- 29,311

Powered by Blogger.