MP : कैलाश मानसरोवर के पर्यटकों के साथ जालसाजी,यात्रा की बुकिंग के नाम पर एजेन्ट यात्रियों को लगा रहे चूना

कैलाश मानसरोवर यात्रा करवाने के नाम पर इस समय विभिन्न बेबसाईटों में टूर ऑपरेटरों द्वारा भ्रामक विज्ञापन प्रकाशित कर पर्यटकों को झूठी जानकारी देकर मोटी रकम वसूली जा रही है।

गौरतलब है कि वर्ष 2020 से कैलाश मानसरोवर यात्रा संचालन में नहीं है, चीन किसी भी निजी ऑपरेटरों को नेपाल मार्ग के साथ-साथ भारत सरकार के मार्ग से परमिट नहीं दे रहा है। लेकिन कुछ टूर ऑपरेटर गूगल में विज्ञापन देते रहते हैं और भारत में बुकिंग राशि ले रहे हैं। उनके कर्मचारी धार्मिक पर्यटकों से धन इकट्ठा करने के लिए सभी फर्जी जानकारी दे रहे हैं। हमारे एक पत्रकार ने विभिन्न निजी टूर ऑपरेटरों से सभी ग्राउंड रिपोर्ट एकत्र की, जिसमें एक नोएडा, यूपी स्थित DIVINE MANTRA PVT. LTD  (TRIP TO TEMPLES) कंपनी के कर्मचारी सफेद झूठ बोल रहे हैं। TRIP TO TEMPLES  की एक महिला कर्मचारी ने  28 मार्च-2022 को फोन कॉल  पर सूचित किया कि हमारे मई और जून-2022 महीने के लिए सभी बैच पूरी तरह से बुक हैं, अब आप 15000 रुपये प्रति व्यक्ति का भुगतान करके जुलाई से सितंबर-2022 के महीने की यात्रा बुक कर सकते हैं।

2020 से चल रही धोखाधड़ी

कैलाश मानसरोवर यात्रा -2022 के लिए उनका प्रस्ताव प्राप्त करने के बाद, हमारे द्वारा उनकी वेबसाइट और पुराने यात्रियों की समीक्षा की गई और पाया कि यात्रियों से पैसे लेने के बाद वे कॉल का जवाब नहीं देते हैं और कोई नया अपडेट नहीं देते हैं।

सवाल यह है कि अब तक 2020 में बुक किए गए पर्यटकों को इस कंपनी द्वारा कोई जानकारी नहीं दी गई और न ही बुकिंग राशि लौटाई गई,तो फिर यह कंपनी वर्ष 2022 के लिए बुकिंग राशि कैसे एकत्र कर सकती है ?  ( चीन से बिना किसी प्रामाणिक समाचार के  ).

धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही डिवाइन मंत्रा

फर्जी विज्ञापन देकर कैलाश मानसरोवर यात्रियों को ठगने का अनूठा फार्मूला अपनाया गया है,यात्रियों द्वारा बुकिंग के दौरान आवेदन भरते समय एक शर्त का हवाला देकर यात्रियों को न तो यात्रा करवाई जा रही है और न ही बुकिंग के दौरान लिए गए रुपये लौटाए जा रहे।जैसे कि डिवाइन मंत्रा (divine mantra pvt. Ltd.) अप्रैल माह में यदि अगस्त-2022 के लिए यात्रा की तारीख बुक करें और किसी आपात स्थिति के कारण आप मई-2022 में अपनी यात्रा रद्द करने का अनुरोध भेजें, तो वे स्पष्ट रूप से कहेंगे कि हमारे बुकिंग फॉर्म के अनुसार बुकिंग राशि वापस नहीं की जाएगी। 

जबकि वे जानते हैं कि अगस्त-2022 में कोई यात्रा आयोजित नहीं की जाएगी । 

जब अगस्त के महीने करीब आते हैं तो ऐसे एजेंट कहते हैं कि चीन परमिट नहीं दे रहा है तो वे क्या कर सकते हैं.अगली यात्रा के संचालन के दौरान आपकी बुकिंग राशि समायोजित की जा सकती है।बड़ा सवाल यह कि जब कैलाश मानसरोवर यात्रा की अनुमति ही नहीं मिल रही है तो बुकिंग क्यों ली जा रही है।

Powered by Blogger.