Online Scammers : क्यू आर कोड की धोखाधड़ी से बचना चाहते है तो अपनाएं ये फार्मूला

online scam : ज्यादा से ज्यादा लोग ई-भुगतान मैथड (e-payment method) और ऑनलाइन लेनदेन पर निर्भर होने के साथ, ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले बढ़ गए हैं. स्कैमर्स ने यूजर्स को फंसाने और उनके बैंकिंग डिटेल्स शेयर करने के लिए उन्हें धोखा देने के सरल तरीके खोजे हैं. हाल ही में, क्यूआर कोड (QR CODE) घोटाले के कई मामले सामने आए हैं, जहां लोगों से पैसे ठगने लिए क्यूआर कोड स्कैन करवाया जाता है, लेकिन उन्हें कुछ भी पैसे रिसीव नहीं होते हैं, और उनके अकाउंट से उनके पैसे कट जाते हैं. क्यूआर कोड स्कैम (Qr-code scam) वाले, लोगों को ठगने के लिए स्कैमर्स ओएलएक्स जैसे पूरी तरह से अच्छे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं. दरअसल, OLX ने ​​ही यूजर्स को इन घोटालों के प्रति आगाह किया है. जानिए यह कैसे काम करता है और कैसे आप खुद को ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार होने से बचा सकते हैं.

Today New Petrol-Diesel Price : आसमान छू रहें पेट्रोल और डीजल के रेट, फटाफट जानिए अपने शहर के दाम ...

स्कैमर्स पैसे चुराने के लिए क्यूआर कोड का उपयोग कैसे करते हैं?

Online Scammers एक क्यूआर कोड भेजते हैं और लोगों से इसे स्कैन करने के लिए कहते हैं ताकि वे चल रही किसी स्कीम से पैसे प्राप्त कर सकें. हालांकि, एक बार जब आप क्यूआर कोड स्कैन करते हैं, तो राशि जमा होने के बजाय, यह आपके बैंक अकाउंट से कट जाएगी. वास्तव में, धोखेबाज आपके बैंक खाते तक भी पहुंच सकते हैं और कई लेनदेन के माध्यम से आपका पैसा चुरा सकते हैं. क्यूआर कोड के माध्यम से ऑनलाइन घोटाला पैसे चोरी करने के सबसे आम तरीकों में से एक हैं. इसलिए, जब भी कोई आपको व्हाट्सएप या किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर एक क्यूआर कोड भेजता है और आपको पैसे प्राप्त करने के लिए इसे स्कैन करने के लिए कहता है, तो आपको लालची नहीं होना चाहिए, और इसे कभी भी स्कैन नहीं करना चाहिए.

Airtel का यह सबसे सस्ता प्लान दे रहा है इतने GB डाटा, जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

ऑनलाइन फ्रॉड से कैसे बचे?

कभी भी अपनी यूपीआई आईडी या बैंक अकाउंट डिटेल अनजान लोगों के साथ शेयर न करें.

अजनबियों से प्राप्त किसी भी क्यूआर कोड को कभी भी स्कैन न करें.

कभी भी ओटीपी को किसी के साथ शेयर न करें क्योंकि वे सीक्रेट होते हैं और आपके लॉगिन डिटेल को वेरिफिाई करने के लिए उपयोग किए जाते हैं.

जब भी आप ऑनलाइन लेनदेन करते हैं या किसी अज्ञात सोर्स/लोगों से पैसे भेजते या प्राप्त करते हैं, तो चेक कर लें कि यूजर रीयर है या नहीं. यदि आप OLX पर कुछ बेच रहे हैं, तो खरीदारों की प्लेटफॉर्म में शामिल होने की तारीख, प्रोफाइल फोटो, नाम, फोन नंबर और बहुत कुछ देखें. अगर किसी ने पहले अकाउंट की सूचना दी थी, तो OLX उसे दिखाएगा.

यदि आप UPI का उपयोग करते हैं, तो इसे एक कोड के साथ सुरक्षित करना सुनिश्चित करें. BHIM, GooglePay और PhonePe समेत सभी UPI पेमेंट मैथड यूजर्स को एक सिक्योरिटी पिन सेट करने की सुविधा देते हैं ताकि हर बार जब वे ऐप खोलेंगे, तो ऐप पहले कोड मांगेगा.

यदि संभव हो तो उन लोगों के साथ नकद लेनदेन करने का प्रयास करें जिन्हें आप नहीं जानते हैं. हालांकि कैशलेस लेनदेन हमेशा सबसे अच्छा होता है, बशर्ते आप उचित सावधानी बरतें.

Powered by Blogger.