अजब गजब : चोर को खोज निकालने वाला MP पुलिस का लेब्रा डॉग कुत्ता ही चोरी : 5 आरोपी गिरफ्तार

            

निवाड़ी पुलिस के डॉग स्क्वॉड (dog squad) से सुपर सीनियर लेब्रा प्रजाति का कुत्ता चोरी हो गया। पुलिस ने कुछ दिन मामला दबाकर रखा, लेकिन 19 अप्रैल की इस घटना का CCTV सामने आने के बाद खबर फैल गई। पुलिस का कुत्ता चोरी होने की खबर सुनकर सभी हैरान हैं। मामला जिले के ओरछा का है। पुलिस ने लापरवाही बरतने पर पुलिसकर्मी जमना प्रसाद अहिरवार को सस्पेंड कर दिया है। रविवार को पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि अच्छी नस्ल का कुत्ता देखकर उठा ले गए थे।

डीजे की आवाज से घबराकर भागा था

वीडियो में कुछ बदमाश कुत्ते को स्कॉर्पियो से ले जाते दिख रहे हैं। पुलिस सुपर सीनियर लेब्रा प्रजाति के इस कुत्ते का इस्तेमाल चोरों को ढूंढने और बम डिफ्यूज करने में करती थी। इसे ओरछा की पर्यटक धर्मशाला में रखा जाता था। इसकी रिपोर्टिंग ओरछा कंट्रोल रूम को थी। 19 अप्रैल की रात को कुत्ते का मास्टर जमना प्रसाद पुत्र छिदावनी लाल अहिरवार​​​​​​ इसे घुमाने के लिए रामराजा मंदिर के पास ले गया था। रात करीब 11.30 बजे वहां से बारात निकल रही थी। उसके डीजे और पटाखे की आवाज सुनकर कुत्ता घबराकर भाग गया।

CCTV में चोरी करते दिखे बदमाश

काफी देर तलाशने के बाद जब कुत्ता नहीं मिला तो क्षेत्र के CCTV फुटेज खंगाले गए। इसमें स्कॉर्पियो सवार पांच-छह बदमाश रामराजा मंदिर के पास से कुत्ते काे ले जाते दिखाई दिए। वे उसे स्कॉर्पियो में डालकर ले गए। मास्टर जमना प्रसाद ने तुरंत वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी सूचना दी। ओरछा थाने में इसकी FIR दर्ज करवाई।

चिरगांव में मिला, रसूखदार बताए जा रहे आरोपी

CCTV के आधार पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की। डॉग को ढूंढना भी पुलिस विभाग के लिए चुनौती बन गया। हालांकि, 24 घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस को यह चिरगांव (झांसी) से मिल गया। बताया जा रहा है कि आरोपी रसूखवाले हैं। इस घटना के बाद चोरी और बरामदगी के बावजूद पुलिस के आला अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं।

पांच आरोपी गिरफ्तार

मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी हेमंत साईं, अनु सरवरिया, गौरव उर्फ तनु पाठक, रानू राजपूत और रोहन पुरोहित को झांसी के चिरगांव से पकड़ा है। पुलिस ने वारदात में उपयोग की गई गाड़ी भी बरामद कर ली है। सभी आरोपी संभ्रांत परिवार से हैं। इनमें एक कुत्ता पालने का शौकीन भी है। ओरछा थाना प्रभारी अभय प्रताप सिंह ने रविवार शाम मामले का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि आरोपी ओरछा में शादी समारोह में आए थे। उन्होंने यहां डॉग को अकेला घूमते देखा। अच्छी नस्ल का होने के कारण वह उसे गाड़ी से ले गए थे। डॉग को तो 24 घंटे में बरामद कर लिया था, लेकिन आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर थे।

Powered by Blogger.