भीषण अग्निकांड से दहली दिल्ली : चार मंजिला इमारत में 27 लोगों की जलकर हुई मौत, जबकि 100 लोग बुरी तरह जख्मी


राजधानी दिल्ली के मुंडका इलाके में हुए भीषण अग्निकांड ने पूरी दिल्ली को दहला कर रख दिया। आग इतनी भयानक लगी कि इसमें 27 लोगों की जलकर मौत हो गई और कई लोग घायल भी हैं। जिस इमारत में आग लगी वो एक 4 मंजिला है जिसका उपयोग व्यावसायिक रूप से कंपनियों को कार्यालय स्थान प्रदान करने के लिए किया जाता है। कंपनी के मालिक वरुण गोयल और हरीश गोयल को हिरासत में ले लिया गया है। इन हादसों से राजधानी दिल्ली दहल उठी थी।

27 लोग जिंदा जले

दिल्ली के पश्चिमी इलाके में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास 3 मंजिला व्यावसायिक इमारत में आग लगने से 27 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गयी है. दमकल विभाग के अधिकारियों के अनुसार शाम 4.40 बजे उन्हें आग लगने की सूचना मिली. इसके बाद 30 दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया.

कंपनी के मालिक गिरफ्तार

तीन मंजिला व्यावसायिक इमारत में लगने की घटना के बाद पुलिस ने कंपनी के मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल को पहले हिरासत में लिया फिर गिरफ्तार कर लिया है. वरुण गोयल और सतीश गोयल को दिल्ली पुलिस ने गैर इरादतन हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. इस हादसे में कम से कम 100 लोग बुरी तरह जख्मी भी हुए। लेकिन अपने पीछे छोड़ गए ऐसे जख्म जो शायद ही कभी भर पाएं।

लाल कुआं इलाके में लगी आग

लाल कुआं इलाके में हुआ अग्निकांड भी उन हादसों में से एक है जिसने राजधानी को झकझोर कर रख दिया। ये हादसा 31 मई 1999 को हुआ। जब लाल कुआं के एक रासायनिक बाजार में अचानक आग लग गई। इस अग्निकांड में 57 की दर्दनाक मौत हो गई। यही नहीं इस हादसे में 27 लोग जख्मी भी हुए।

Powered by Blogger.