REWA : फिर चली रीवा में गोली : कार सवार बदमाशों ने पीछा कर बरसाई गोलियां, जमकर की मारपीट : तलाश जारी

रीवा शहर से देर रात बड़ी खबर निकल कर आ रही है कि जहां शराब कारोबारियों के बीच गोली चलाने की घटना सामने आई है। 

आपको बता दें कि रीवा जिले में इन दिनों लगातार गोलियां और लूट जैसी घटनाएं लगातार होती जा रही हैं जहां गोली चलने की घटना से रीवा भयभीत हो चुका है वहीं दूसरी ओर राह चलती महिलाओं से चैन स्नैचिंग की वारदातों को भी अंजाम दिया जाता है आपको बता दें कि झिरिया शराब दुकान में काम करने वाला राहुल सेन अपने अपने साथियों के साथ फोर व्हीलर वाहन में किसी काम से रायपुर कर्चुलियान की तरफ जा रहा था तभी अचानक से रायपुर कर्चुलियान के समीप एक कार द्वारा ओवरटेक करते हुए टक्कर मारकर कार को रोक लिया और जब तक कुछ पीड़ित समझ पाता तब तक कार सवार बदमाश बाहर निकल कर गोलियों से फायरिंग की और बाहर निकाल कर मारपीट करना शुरू कर दी। 

आपको बता दें कि यह घटना राहुल सेन निवासी भजन अगर वह साथी शुभम तिवारी अखंड द्विवेदी के साथ फोर व्हीलर वाहन से नईगढ़ी की तरफ जा रहे थे तभी अचानक से रायपुर कर्चुलियान के समीप कार में सवार होकर बदमाशों ने कार को टक्कर मार दी। वहीं दूसरी ओर पीड़ित के साथ ही शुभम तिवारी ने युवक को बचाने की कोशिश की तो आरोपियों ने उसके सर पर भी बंदूक के बट से उस पर हमला कर दिया जहां गोली चलाने की घटना सुनकर मौके पर गांव की कुछ लोग पहुंचे तो आरोपी मौके से फरार हो गए वहीं उक्त घटना पर पीड़ित को संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत नाजुक है। 

आरोपियों की पहचान प्रिंस पटेल और मनीष यादव के रूप में की गई है जो कि शराब कारोबारी भी बताए जा रहे हैं। 

सूचना मिलने पर पहुंचा पुलिस बल

आपको बता दें कि रायपुर कैसे जान के समीप गोली चलाने की घटना की जानकारी मिलते ही भारी पुलिस बल मौजूद हो गया जा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार वर्मा ने अस्पताल पहुंचकर घायलों की जानकारी ली और वारदात में जिलों के नाम सामने आए हैं उनकी तलाश शुरू कर दी है। आरोपी पूर्व में भी चुरहट की शराब दुकान में घटना को अंजाम दे चुके हैं। 

कराहिया शराब दुकान में भी कर चुके हैं काम

आपको बता दें कि रीवा जिले में इन दिनों शराब माफियाओं को लेकर लगातार गुटबाजी की जा रही है जिस पर गोली चलाने और दिनदहाड़े सरहंगो द्वारा बाइक से गुजरते हुए गोली चालन की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है. अभी हाल ही में विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र अंतर्गत गोली चालन की घटना को अंजाम दिया गया था, जिस पर पूर्व अपराधियों के नाम आए थे मिली जानकारी के अनुसार यह भी बताया जा रहा है कि जानबूझकर आपसी रंजिश को लेकर खुद ही गोली चलाने की घटना को अंजाम दिया गया था। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र अंतर्गत हाल ही में हुई वारदात पर प्रकाश तिवारी उर्फ (पीके) दिव्यांश, सूर्य प्रकाश तिवारी उर्फ छोटा कारतूस के नाम सामने आए थे जिस पर पीड़ित द्वारा यह कहा गया कि मुझे वहां बुलाया गया और बुलाकर बात करते हैं अचानक से मेरे ऊपर गोली मार दी गई, जबकि उक्त पक्ष से यह कहा जा रहा है कि मेरे द्वारा गोली नहीं चलाई गई है मुझे झूठा ही फसाया जा रहा है जिसकी शिकायत मैंने एसपी ऑफिस में दी है जिस पर मामले की जांच चल रही है, वही प्रकाश तिवारी उर्फ पीके के पिता द्वारा यह कहा जा रहा है कि मेरे बेटे द्वारा इस घटना को नहीं किया गया है बल्कि उसको फसाया जा रहा है इस घटना की जानकारी मैंने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भी करी है. मामले की जांच जारी है समय रहते जल्दी ही घटना का खुलासा किया जाएगा वहीं दूसरी ओर राहुल मिश्रा निवासी बजरंग नगर ने एक बयान पर यह भी कहा था कि उस घटना में सिद्धार्थ सिद्धू भी शामिल है जबकि बाद में बयान को पलटते हुए यह कहा गया कि इस घटना में सिद्धार्थ सिंह का किसी प्रकार का कोई लेना देना नहीं है. इस घटना को अंजाम देने वाला और कोई नहीं प्रकाश तिवारी है. 

Powered by Blogger.