REWA : पैसों के लेनदेन को लेकर तीन आरोपियों ने मारी युवक को गोली : गंभीर रूप से संजय गाँधी के ICU में भर्ती

रीवा। पैसों के लेनदेन के विवाद में देर रात एक युवक को बुलवाकर आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की और बाद में पिस्टल से फायर कर दिया। गोली युवक के हांथ लगी जिसमें वह घायल हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल को तत्काल इलाज के लिए अस्पताल भिजवा दिया।

वैवाहिक आयोजन से लौट रहा था युवक

घटना को अंजाम देने वाले आरोपी फरार बताए जा रहे है। राहुल मिश्रा पिता सत्यनारायण मिश्रा 23 वर्ष निवासी इंदिरा नगर सोमवार की रात वैवाहिक आ

योजन में शामिल होने गया था। रात करीब 12 बजे वह वापस लौट रहा था जिसके मोबाइल आरेापी दिव्यांश शुक्ला का फोन आया। इस दौरान आरोपी ने उसको विवि थाने के विभीषण नगर में बुलाया। युवक के पहुंचने पर आरोपियों का उससे विवाद हो गया जिसमें उन्होंने पीडि़त से मारपीट शुरू कर दी। आरोपी सिद्धार्थ सिंह, प्रकाश तिवारी, दिव्यांश शुक्ला ने उनको जमकर पीटा और बाद में सिद्धार्थ सिंह ने जेब से पिस्टल निकालकर फायर कर दिया। गोली युवक के हांथ में लगी और वह घायल हो गया। गोली चलने की आवाज से देर रात पूरे इलाके में सनसनी फैल गई।

स्थानीय लोगों के पहुंचने पर आरोपी फरार

आवाज सुनकर स्थानीय लोग पहुंचे तो आरोपी मौके से फरार हो गए थे। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई जिसने तत्काल युवक को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। युवक के बयान के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। वहीं घटना को अंजाम देने वाले आरोपी फरार बताए जा रहे है जिनकी पुलिस तलाश कर रही हे।

उधारी मांगने पर आरोपियों ने किया हमला

आरोपियों ने उधारी मांगने पर इस घटना को अंजाम दिया है। युवक ने आरेापी दिव्यांश शुक्ला को डेढ़ लाख रुपए उधार में दिये थे जिसे वह वापस मांग रहा था। रुपयों को लेकर कुछ दिन पूव्र आरोपी से फोन पर उसका विवाद भी हुआ था जिसके बाद उन्ळोंने पूरी योजनाबद्ध तरीके से उसको बुलवाया और बाद में उस पर फायर कर दिया। थाना प्रभारी जेपी पटेल ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। उनकी गिरफ्तारी के बाद ही वारदात में प्रयुक्त पिस्टल बरामद होगी।

चुनौती बने अवैध शस्त्र

अपराधियों के हांथों की शोभा बढ़ाने वाले अवैध शस्त्र चुनौती बने हुए है और ये कानून और व्यवस्था के लिए सबसे बड़ा खतर है। इन अवैध हथियारों का इस्तमाल वारदातों लूट, हत्या, हत्या के प्रयास जैसे कई संगीन अपराधों के लिए होता है। आराम से जिले में अपराधियों तक हथियारों की खेप पहुंच रही है जिसका वे घटनाओं को अंजाम देने के लिए करते है।

Powered by Blogger.