REWA : सावधान; शहर में दनादन चल नहीं गोलियां, भरे बाजार ताला हाउस के सामने गोली चलने से मचा हड़कंप

ऋतुराज द्विवेदी,रीवा जिले से इस वक्त की बड़ी खबर निकल कर आ रही है जहां ताला हाउस के सामने एमपी 17 परिसर हॉकर्स जोन में गोली चलने की घटना सामने आई है, जहां तत्काल मौके पर एडिशनल एसपी शिव कुमार वर्मा अमहिया थाना,सिविल लाइन थाने का भारी बल मौके पर पहुंचा है। 

आपको बता दें कि इन दिनों हॉकर्स जोन चौपाटी का अड्डा बना हुआ है जहां तरह-तरह के व्यंजन परोसे जाते हैं. वही यह रीवा शहर का सबसे व्यस्ततम इलाका है जहां पूर्व में पत्रकार चौराहा के सामने मौजूद ठेला गोमतियो को कई महीने बाद वहां से हटाकर एमपी 17 हॉकर्स जोन में स्थापित कर दिया गया है वही आपको बता दें कि पूर्व में भी गोली चलाने की घटना सामने आई थी जहां दो पक्षों में विवाद को लेकर सभी आरोपी मौके से फरार हो गए थे वही आज एक बार फिर देर रात गोली चलने की घटना से रीवा शहर में हड़कंप मच गया है।



आवारा वा नशेड़ीयो को एमपी 17 पार्किंग से अमहिया पुलिस ने खदेड़ा, तो कुछ पुलिस का दल बल देख मौके से हुए फरार

मौके पर पहुँचा पुलिस बल घटना के साक्ष्य जुटाने के कयास लगाए जा रहे हैं वही आपको बता दें कि रीवा शहर का यह सबसे केंद्र स्थान रहा है जहां खास तौर पर चाय की चुस्की लेने और फुलकी फुकड़ खाने फैमिली सहित नवयुगलो का जमावड़ा लगा रहता है। दहशत बनने के उद्देश से बदमाशो ने चलाई गोली ,अभी कारण का पता नही चल पाया है, वहीं बदमाशो की तलाश के लिए पुलिस की टीम दबिश दे रही। शहर में इन दिनों चोरी लूटपाट की घटनाएं आम बात हो गई है, बदमाशो को पुलिस का अब भय नहीं रहा जिससे बेखौफ बदमाश आए दिन लूटपाट, चोरी, गोली चलाने जैसी घटना को अंजाम दे रहे हैं. 


चाय सुट्टा बार में तफ्तीश करती रीवा पुलिस

जानकारी के लिए आपको यह भी बता दें एमपी 17 में दिनभर भीड़ की आवाजाही इतनी ज्यादा होती है कि यहां का जाम  शिल्पी प्लाजा तक को कवर करता है जहां सैमसंग शो रूम,भारत प्लास्टिक,चाय सुट्टा बार और एमपी 17 पार्किंग के सामने वाहन पार्किंग को लेकर किसी प्रकार की कोई व्यवस्था नहीं की गई है. वहीं पुलिस अधीक्षक को यह चाहिए कि समय-समय पर इन परिसर पर छापामार कार्यवाही करनी चाहिए क्योंकि यहां पर नशेड़ीयों से लेकर आदतन अपराधियों तक का यह गढ़ बन चुका है। आपको बता दें कि एमपी 17 पार्किंग में सबसे ज्यादा आदतन अपराधी रहते है जो जो चाय की आड़ में नशे  का सेवन करते हैं वही ठीक कोने में घुसकर गांजा और अफीम का भी कारोबार दबी में किया जाता है। अब देखना यह है कि रीवा पुलिस द्वारा एक बार फिर किस तरह की कार्यवाही की जाती है आरोपी पकड़े जाते हैं या नहीं पकड़े जाते हैं यह तो पुलिस ही बताएगी।

एमपी 17 में मौजूद चाय सुट्टा बार में युवकों के जमावड़े को देख पहुंचे एडिशनल एसपी

आपको बता दें कि पूर्व कलेक्टर इलैया राजा टी के नेतृत्व में एवं पूर्व पुलिस अधीक्षक राकेश सिंह के निर्देश पर ताला हाउस परिसर के समीप MP-17 पार्किंग के पास कई तरह के आदतन अपराधियों और नवयुगलो का जमावड़ा लगा रहता है। खैर बरहाल दुकानदार तो अपनी दुकानदारी करेगा ही वही किसी के माथे पर अपराधी का पट्टा तो लगा नहीं है जहां इस जमावड़े को देखकर कई बार पूर्व में भी गोली चलने की घटनाएं हो चुकी हैं आपको बता दें कि यह सभी बदमाश चाय की चुस्की लेने के बाद बाहर खड़े होकर कई तरह की रणनीतियां बनाते हैं और फिर कट्टे से फायर कर मौके से फरार हो जाते हैं पूर्व पुलिस अधीक्षक राकेश सिंह के निर्देश पर ताबड़तोड़ कार्यवाही की गई थी वही आपको बता दें कि एक बार फिर आज गोली चलने की घटना से रीवा सहम गया है. 

बढ़ रहा अपराध का ग्राफ 

इन दिनों लगातार घटना पर घटनाएं होती जा रही हैं। एमपी 17 पार्किंग में किसी प्रकार की कोई चेकिंग व्यवस्था नहीं है बल्कि उल्टा ही जाम की स्थिति उत्पन्न होती है पुलिस महकमे को चाहिए कि इस परिसर पर पैनी नजर बनाए रखें क्योंकि यहां गाजा और ड्रग्स का भी कारोबार चोरी छुपे किया जाता है। खैर पुलिस तंत्र तो खुद ही सब कुछ जानता है उसके बाद भी एमपी 17 पार्किंग पर किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की जाती है क्योंकि यह सारा खेल पुलिस की मिली भगत से इस काम को किया जाता है। 

वहीं पुलिस प्रशासन को यह चाहिए कि इन चाय की स्थानों पर हर हफ्ते सीसीटीवी के रिकॉर्ड को चेक करें और किस प्रकार के अपराधियों का यहां उठना बैठना है उन पर कड़ी से कड़ी नजर बनाए नहीं तो ऐसे ही आए दिन गोली चलाने की घटना होती रहेंगी और आपको यह भी बता दें कि इस परिसर में नव युवकों के साथ ही फैमिली वालों का भी आना जाना होता है वही इस भीड़ भाड़ परिसर में ना जाने किस को कब गोली लग जाए वही, रीवा न्यूज़ मीडिया पूर्व में भी एमपी 17 की खबरों को प्रमुखता से उठाया था जिस पर पूर्व कलेक्टर इलैयाराजा टी के  निर्देश पर छापेमारी ताबड़तोड़ कार्यवाही की गई थी वही एक बार फिर ठीक उसी तरह की घटना आज फिर देखने को मिल रही है आपको यह भी बता दें कि अगर लगातार इसी तरह की स्थितियां बनी रहे तो एक न एक दिन किसी की जान जा सकती है अगर आज इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन नहीं जगता है तो आने वाली घटना में इसका जिम्मेदार सिर्फ पुलिस प्रशासन ही होगा। 

Powered by Blogger.