MP : मामा का भरोसा, मैं हूं ना...कठोर एक्शन लेंगे : मनचलों ने ब्लेड से चीरा महिला का चेहरा, 118 टांके लगे, आरोपियों के अवैध निर्माण धराशाई


MP NEWS : भोपाल के टीटी नगर इलाके में सीटी बजाने और भद्दे कमेंट का विरोध करने पर मनचलों ने महिला के चेहरे पर ब्लेड मार दी। आंख पर गंभीर चोट आई है। चेहरे से गले तक 118 टांके लगाने पड़े। घटना 9 जून की रात की है। महिला पति के साथ बाइक पर जा रही थी। इतने गंभीर अपराध में टीटी नगर पुलिस ने मामूली धाराओं में केस दर्ज किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में ब्लेड अटैक विक्टिम सीमा सोलंकी से मुलाकात की। मुख्यमंत्री और पुलिस-प्रशासन के अफसर सुबह 8 बजे शिवाजी नगर पहुंचे। CM ने परिवार को 1 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की। वे बोले- आरोपियों पर कठोर एक्शन लेंगे, मैं हूं ना...। इसके बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर पुलिस और नगर निगम द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए आरोपियों के अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाया।

मुख्यमंत्री ने कहा- सीमा का इलाज राज्य शासन कराएगा। उनका साहस सराहनीय है। जिस हिम्मत से सीमा ने बदमाशों का मुकाबला किया, वो दूसरी महिलाओं के लिए प्रेरक हैं। उनके बेटे और बेटी पढ़ते हैं। इनके सहयोग के लिए भी कलेक्टर भोपाल को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले रविवार सुबह मुख्यमंत्री ने संभागायुक्त गुलशन बामरा और पुलिस कमिश्नर मकरंद देउसकर को अपने निवास पर बुलाकर बैठक की। इसमें प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी, OSD योगेश चौधरी, कलेक्टर अविनाश लवानिया भी मौजूद रहे।

आरोपियों के अवैध निर्माण पर चला हथौड़ा

जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम ने संयुक्त कार्रवाई कर महिला को ब्लेड मारने वाले आरोपियों के अवैध निर्माण को धराशाई कर दिया।

हुलिया बनवाया ... और देर रात ही धर लिए तीनों आरोपी

पुलिस ने शनिवार देर रात ही मामले के मुख्य आरोपी बादशाह बेग (38) और उसके साथी अजय उर्फ बिट्‌टी सिबदे (18) को पकड़ लिया। दोनों रोशनपुरा झुग्गी के रहने वाले हैं। तीसरे आरोपी निखिल को भी बाद में गिरफ्तार कर लिया गया। धरपकड़ के लिए 5 टीमें गठित की गई थीं। पुलिस ने महिला से पूछताछ कर आरोपियों का हुलिया (स्कैच आर्ट) तैयार किया और इसके आधार पर जांच शुरू की। चश्मदीदों, CCTV फुटेज और साइबर टीम की मदद से आरोपियों की शिनाख्त हुई।

मनचलों की करतूत, पीड़ित सीमा की जुबानी...

मेरा नाम सीमा सोलंकी है। तीन बच्चों के साथ सरवेन्ट क्वार्टर शिवाजी नगर (भोपाल) में रहती हूं। एक डॉक्टर की हाउस हेल्पर हूं। 9 जून की रात साढ़े 8 बजे की बात होगी। मैं और पति सुनील टीटी नगर इलाके में होटल श्री पैलेस से पानी की बोतल खरीदने गए थे। पति होटल के अंदर चले गए। मैं होटल के सामने ही बाइक के पास खड़ी थी। इतने में ऑटो में तीन लड़के आए। मुझे देखकर सीटी बजाने लगे। एक अश्लील कमेंट करना लगा। मैं चिल्लाई- सीटी क्यों बजा रहे हो? वे तीनों गाली देने लगे। मुझे गुस्सा आया तो एक लड़के को दो-तीन थप्पड़ मार दिए। तब तक भीड़ जमा हो गई। ऑटो से तीनों भाग निकले।

थोड़ी देर बाद पति के साथ बाइक पर घर जाने के लिए होटल से आगे निकले। हम थोड़ा ही आगे पहुंचे, तभी वही तीनों लड़के पीछे आ गए। एक ने ब्लेड से चेहरे पर हमला किया। मैं खून से पूरी तरह नहा गई थी। थोड़ी देर बाद बेसुध होकर गिर गई। इसके बाद मुझे याद नहीं है। जब होश आया तो अस्पताल में थी। आज ही छुट्‌टी मिली है।

मैं न तो उनको जानती हूं, न ही पहचानती हूं। उन्हें गलती की तो सजा मिलनी चाहिए। मेरे तीन बच्चे हैं, आज मुझे कुछ हो जाता तो उन्हें कौन संभालता? मुझे पुलिस से कोई भी मदद नहीं मिली। मैं चाहती हूं कि आरोपियों को सजा मिले। ऐसी सजा मिले कि दोबारा किसी के साथ ऐसी हरकत न कर सकें।

पुलिस ने की लीपापोती

पूरे घटनाक्रम में टीटीनगर पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सामान्य धाराओं में केस दर्ज किया है। पीड़िता के पति सुनील सोलंकी ने पुलिस पर गंभीर धाराओं में केस नहीं दर्ज करने पर सवाल उठाए हैं। उनका आरोप है कि इस तरह से अपराधियों का दुस्साहस बढ़ता ही जाएगा।

Bhopal Molestation Case"," Bhopal Crime"," Bhopal Crime Rate"," Bhopal Crime News"," Madhya Pradesh Rape Case News"," Madhya Pradesh News Today"

Powered by Blogger.