REWA : रीवा में बेखौफ हो चुके लूटेरे : सीधी से खरीददारी करने रीवा आई महिला के गले से बाइकर्स गैंग ने चेन खींचकर फैलाई सनसनी, चेन बरामद, नाकाबंदी पर आरोपी गिरफ्तार

 

REWA : रीवा में बेखौफ हो चुके लूटेरे : सीधी से खरीददारी करने रीवा आई महिला के गले से बाइकर्स गैंग ने चेन खींचकर फैलाई सनसनी, चेन बरामद, नाकाबंदी पर आरोपी गिरफ्तार

रीवा। शहर में बेखौफ हो चुके लुटेरों के कदम रुकने का नाम नहीं ले रही है। सोमवार की शाम सीधी से खरीददारी करने रीवा आई महिला के गले से बाइकर्स गैंग ने चेन खींचकर सनसनी फैला दी। घटना की सूचना मिलते ही तत्कााल पूरे शहर की पुलिस वाहन चेकिंग में लग गई। करीब घंटे भर बाद पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया जिससे सोने की चेन बरामद हो गई है।

वैवाहिक आयोजन की खरीदी करने आई थी महिला

सुषमा गुप्ता पति भूपेश कुमार 35 वर्ष निवासी चुरहट जिला सीधी सोमवार को अपनी ननंद निशा गुप्ता के साथ वैवाहिक आयोजन के लिए खरीददारी करने रीवा आई थी। दिन भर बाजार में खरींददारी करने के बाद शाम करीब 6 बजे वे शिल्पी प्लाजा से आटो में सवार होकर मानस भवन के समीप पहुंची जहां से वे पैदल कालेज चौराहा तरफ जा रही थी। शाम करीब 6 बजे मानस भवन के समीप स्थित नाले पर पहुंचने पर पीछे से एक बदमाश बाइक में सवार होकर आया और अचानक झपट्टा मारकर महिला की चेन खींच ली। अचानक हुई इस घटना से महिला के होश उड़ गए। वे कुछ समझ पाती उससे पहले ही बदमाश गाड़ी से कालेज चौराहा की तरफ भाग गया। घटन से अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। शोर शराबा सुनकर स्थानीय लोग पहुंच गए जिन्होंने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने कराई नाकाबंदी

घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने तत्काल सभी थानों को नाकाबंदी करने के निर्र्देश दिये जिस पर पुलिस ने सभी वाहनों को रोकना शुरू कर दिया। करीब घंटे भर तक पुलिस को चकमा देने के बाद शातिर बदमाश अमहिया गल्ला मंडी के समीप पुलिस के हांथ लग गया। तलाशी लेने पर उसके पास से सोने की चेन बरामद हो गई। पकड़े गए आरोपी की पहचान नीलेश तिवारी 29 वर्ष निवासी जमोड़ी जिला सीधी के रूप में हुई है। उसके खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

सीधी में दर्ज है लूट के कई मामले, शहर की अन्य घटनाओं में भूमिका की जांच कर रही पुलिस

पकड़ा गया आरोपी शातिर बदमाश है। उसके खिलाफ सीधी में लूट के कई मामले दर्ज है। वह ज्यादातर चेन स्नेचिंग की घटनाओं को अंजाम देता है। शहर में कुछ दिनों के अंतराल में हुई चेन स्नेचिंग की घटनाओं में पुलिस उसकी भूमिका की जांच कर रही है। समान, सिविल लाइन सहित अन्य थाना क्षेत्रों में चेन स्नेचिंग की कई वारदातें हुई है। ऐसे में पुलिस अब इन सभी घटनाओं के पीडि़तों को बुलवाकर इसकी पहचान करवायेगी। जिस फिल्मी स्टाइल से उसने अकेले घटना को अंजाम दिया है उससे अन्य घटनाओं में भी इसकी भूमिका की बात सामने आ रही है।

हर चौराहे में चेकिंग देखकर लौटा था आरोपी

घटना के बाद तत्काल पुलिस ने सभी प्रमुख मार्गों में वाहन चेकिंग लगाकर संदिग्धों को रोकन शुरू कर दिया था। आरोपी समान तिराहे में पुलिस देखकर वापस लौटकर आया। सिरमौर चौराहा व कालेज चौराहा में भी पुलिस वाहनों को रोक रही थी जिससे वह आगे नहीं भाग गया। वह अमहिया मार्ग से पीटीएस चौराहा निकलने की फिराक में था लेकिन यहां भी पुलिस लगी थी जिसने आरोपी को पकड़ लिया। यदि वह शहर से बाहर निकलने में कामयाब हो जाता तो सीधी निकल जाता।

बदमाश से चल रही पूछताछ

मानस भवन के समीप महिला से चेन स्नेचिंग हुई थी। तत्काल पुलिस टीमें सक्रिय हो गई और सभी चौराहों में संदिग्ध वाहनों को रोकना शुरू कर दिया जिससे आरोपी अमहिया के समीप पुलिस के हांथ लग गया जिससे चेन बरामद हो गई है। वह सीधी का शातिर बदमाश है और उसके खिलाफ कई मामले दर्ज है। शहर की अन्य घटनाओं में भी उसकी भूमिका की जांच की जा रही है।

शिवा अग्रवाल, थाना प्रभारी अमहिया

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read