REWA : टमस नदी में नांव पलटने से बडा हादसा : 5 लोग नदी में डूबे, 2 तैरकर बाहर निकले तो तीन अभी भी लापता : बचाव कार्य जारी

 

REWA : टमस नदी में नांव पलटने से बडा हादसा : 5 लोग नदी में डूबे, 2 तैरकर बाहर निकले तो तीन अभी भी लापता : बचाव कार्य जारी


रीवा में बुधवार की आज शाम टमस नदी में नाव पलटने से बडा हादसा हो गया। यहां नाव में सवार 5 लोग नदी में डूब गए जिनमें से 2 तैरकर बाहर निकल आए जबकि 3 लोग लापता बताए जा रहे हे। नदी में हुई इस घटना के बाद स्थानीय ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना देकर लापता लोगों की तलाश शुरू कर दी तो वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने NDRF की टीम में शामिल गोताखोरों की मदद से रेस्कयू शुरू किया है। इधर घटना की खबर लगते ही कलेक्टर मनोज पुष्प व एसपी नवनीत भसीन मौके पर पहुंचे है और राहत व बचाव कार्य को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए है।

REWA : टमस नदी में नांव पलटने से बडा हादसा : 5 लोग नदी में डूबे, 2 तैरकर बाहर निकले तो तीन अभी भी लापता : बचाव कार्य जारी

रीवा के मिश्रा परिवार की कार खंडवा में हुई दुर्घटनाग्रस्त : मासूम समेत 3 की मौत

दरअसल नदी में नांव पलटने की यह घटना जिले के अतरैला थाना के गुरगुदा गांव स्थित टमस नदी की है। जानकारी के मुताबिक 5 की संख्या में ग्रामीण नांव में सवार होकर नदी पार कर रहे थे तभी अचानक से तेज हवा आई और पानी की लहरों में नाव पलट गई। हादसे के दौरान नांव में सवार 5 लोग नदी में डूब गए जिनमें से 2 ने तैरकर अपनी जान बचा ली जबकि 3 लोग नदी की गहराई में समाकर लापता हो गए। घटना की जानकारी लोगों को नदी से जान बचाकर बाहर निकले लोगों ने दी जिसके बाद पूरे गांव में यह खबर फैल गई और मौके पर भीड जमा हो गई। स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना देकर बिना समय गवाएं ही लापता लोगों की तलाश शुरू की जिसके कुछ ही देर बाद पहुंची पुलिस ने मौके पर गोताखोरों को बुलाया और लापता लोगों की तलाश में रेस्क्यू शुरू किया है।

रीवा के मयंक ने गाड़े सफलता के झंडे : UPSC में मयंक मिश्रा की लगी 228वीं रैंक : पहले CISF में कमांडेंट, फिर UP डीएसपी अब IAS में चयन

बताया जा रहा है कि नाव में सवार सभी लोग एक ही गांव के रहने वाले है जो नाव में सवार होकर एक बरहौ कार्यक्रम में शिरकत करने नदी पार कर रहे थे। इधर घटना के बाद से लापता हुए लोगों के परिवार में मातम पसरा हुआ है। घटना की खबर लगते ही कलेक्टर व एसपी मौके पर पहुंचे और राहत व बचाव कार्य का जयजा लेते आवश्यक दिशा निर्देश दिए है।

बहुचर्चित राज निवास मामले में सह आरोपी संजय त्रिपाठी गंभीर हालत में भोपाल के लिए रेफर, जेल प्रबंधन पर लगाएं यह आरोप

इधर नदी में पानी का जल स्तर अधिक होने के कारण राहत एवं बचाव कार्य में आ रही दिक्कतों को देखते हुए कलेक्टर के निर्देश पर नदी में अप एरिया से आने वाले पानी का बहाव रोक दिया गया है। अब नदी का धीरे धीरे जल स्तर कम होने से गोताखोरों एवं अन्य बचाव दल द्वारा राहत एवं बचाव कार्य तेजी से जारी है। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक घटना स्थल पर उपस्थित रहकर राहत एवं बचाव कार्य की लगातार स्वयं निगरानी किए हुए हैं।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read