MP TET वर्ग-3 पास करने वाले कैंडिडेट्स के लिए अच्छी खबर : दिसंबर तक ज्वॉइनिंग, तो टीचर्स के 18,527 पदों पर निकाली भर्ती

 
MP TET वर्ग-3

TET वर्ग-3 पास करने वालों को मिलेगी दिसंबर तक ज्वॉइनिंग,जानें कैसे होगी काउंसिलिंग

प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (MP TET वर्ग-3) पास करने वाले कैंडिडेट्स के लिए अच्छी खबर है। सरकार ने टीचर्स के 18 हजार 527 पदों की भर्ती निकाली है। इसमें स्कूल शिक्षा और जनजातीय कार्य विभाग के शिक्षक शामिल हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने पासिंग मार्क्स 50% कर दिए हैं। वहीं, जनजातीय कार्य विभाग भी पासिंग मार्क्स 50% करने की तैयारी कर रहा है। इसके आदेश जल्द आ सकते हैं। इसके बाद कैलेंडर जारी कर दिया जाएगा।

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) द्वारा आयोजित परीक्षा के लिए करीब 8 लाख कैंडिडेट्स ने फॉर्म भरे थे। इनमें से 5 लाख 89 हजार 150 कैंडिडेट्स ने परीक्षा दी थी। रिजल्ट भी 8 अगस्त को जारी किया गया था। सूत्रों की मानें तो अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक कैलेंडर जारी किया जा सकता है। अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से यह

 प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। दिसंबर के अंत यानी नए साल से पहले सभी को नियुक्ति दिए जाने की संभावना है। 

जानिए, कैसे होगी पूरी प्रक्रिया...

रजिस्ट्रेशन
आवेदक कोरोला जन्मतिथि व रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी मिलेगा इसी के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कराना होगा।
डॉक्यूमेंट अपलोडिंग
प्रोफाइल लॉगिन के बाद आवेदक को पहले से भरी प्रविष्ट के अनुसार दोबारा डाक्यूमेंट्स नया ऑप्शन अनुसार अपलोड करना होगा।
चॉइस फिलिंग
एमपी ऑनलाइन के माध्यम से विषयावर,जिलावार स्कूल के क्रम में ऑप्शन को दर्ज करना होगा। इसमें पोर्टल शुल्क के साथ शुल्क भरकर चॉइस लॉक करें। आखरी दिन तक चॉइस संशोधन कर सकते हैं। 
सिलेक्शन लिस्ट
चॉइस फिलिंग के बाद सिलेक्शन लिस्ट जारी की जाएगी, जिसमें दस्तावेजों का सत्यापन होगा। 
डॉक्यूमेंट सत्यापन वा रिपोर्टिंग
जिला सहायक आयुक्त स्तर पर चयनित आवेदक के मूल दस्तावेजों का सत्यापन उसी जिले में किया जाएगा, जिस जिले के लिए चयन हुआ है। 
नियुक्ति पत्र जारी होंगे
वर्ग 3 में चयनित कैंडिडेट्स की नियुक्ति की जाएगी सभी प्रक्रिया के बाद नियुक्ति पत्र दिया जाएगा यह लोग शिक्षा आयुक्त के साइन से जारी किए जाएंगे।

पहली बार संयुक्त काउंसिलिंग की जाएगी

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल शिक्षा के भर्ती नियम-2018 में अनारक्षित प्रवर्ग के कमजोर वर्ग (EWS) के लिए प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के उत्तीर्ण अंक 60% से घटाकर 50% कर दिए गए हैं। जनजातीय कार्य विभाग में बदलाव की प्रक्रिया चल रही है। आयुक्त लोक शिक्षण अभय वर्मा ने बताया कि संशोधन के बाद रिजल्ट तैयार कर भर्ती प्रक्रिया अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से शुरू की जाएगी। प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती के लिए स्कूल शिक्षा और जनजातीय कार्य विभाग द्वारा संयुक्त काउंसिलिंग की जाएगी। स्कूल शिक्षा विभाग के 7 हजार 429 और जनजातीय कार्य विभाग के 11 हजार 98, इस तरह कुल 18 हजार 527 पदों पर भर्ती की जाएगी।

संयुक्त काउंसिलिंग का यह होगा फायदा

अभी तक स्कूल शिक्षा विभाग और जनजातीय कार्य विभाग अलग-अलग काउंसिलिंग करता था। ऐसे में स्कूल शिक्षा विभाग की पहले काउंसिलिंग होने से आदिवासी क्षेत्र के भी उम्मीदवार जॉब के चक्कर में शहरी क्षेत्र में आ जाते थे। एक साथ काउंसिलिंग होने से आदिवासी क्षेत्र और शहरी क्षेत्र के उम्मीदवार के पास उसी क्षेत्र में नियुक्त लेने का मौका मिल सकेगा।

चुनाव से भी जोड़कर देख रहे

मध्यप्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है। टीचर्स की भर्ती को चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि भर्ती निकालकर सरकार शिक्षकों को आकर्षित करना चाहती है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर स्कूल शिक्षा विभाग ने दिसंबर के अंत तक सभी को नियुक्ति पत्र जारी करने का लक्ष्य रखा है।

Related Topics

From Around the Web

Latest News