DR. Divya पाटीदार ने दुनिया में खूबसूरती का बजाया डंका : 120 देशों को पछाड़कर जीता Mrs Universe Central Asia का खिताब

 

DR. Divya पाटीदार ने दुनिया में खूबसूरती का बजाया डंका : 120 देशों को पछाड़कर जीता Mrs Universe Central Asia का खिताब

रतलाम की बेटी डॉ. दिव्या पाटीदार ने दुनिया में खूबसूरती का डंका बजाया। 120 देशों को पछाड़कर मिसेज यूनिवर्स सेंट्रल एशिया 2021 का खिताब जीता। उन्हें मिसेज यूनिवर्स इंस्पिरेशन (Mrs Universe Inspiration) का अवॉर्ड भी मिला है। प्रतियोगिता साउथ कोरिया (South Korea) के सियोल में 5 जुलाई को हुई। इससे पहले दिव्या मिसेज इंडिया माय आइडेंटिटी-2018 (Mrs India My Identity-2018) और मिसेज यूरेशिया-2019 (Mrs Eurasia-2019) की विजेता रही हैं।

खुद डिजाइन किए गाउन (self designed gown)

दिव्या पाटीदार इस सफलता का श्रेय मां राधा पाटीदार को देती हैं। दिव्या ने कोरोना काल में पिता को खो दिया था। इसके बाद मां ने अपनी तकलीफों को भूल कर प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया। खास है कि दिव्या ने कॉम्पिटीशन में पहनने के लिए खुद ही गाउन डिजाइन किए। साथ ही, तीन साल के बेटे आर्यमन को भी संभाला।

DR. Divya पाटीदार ने दुनिया में खूबसूरती का बजाया डंका : 120 देशों को पछाड़कर जीता Mrs Universe Central Asia का खिताब

मिसेज यूनिवर्स सेंट्रल एशिया बनने तक का सफर (Journey to becoming Mrs. Universe Central Asia)

डॉ. दिव्या ने बताया कि कॉलेज के समय से ही मॉडलिंग, सोशल वर्क, अभिनय और संगीत के क्षेत्र में सक्रिय रही हैं। यही नहीं, टीवी शो सारेगामापा और इंडियन आइडियल के टॉप 100 में भी वह रह चुकी हैं। वर्ष 2013 में दिव्या की शादी रतलाम के ही रहने वाले मर्चेंट नैवी ऑफिसर प्रयास जोशी से हुई। इसके बाद ससुराल से भी मॉडलिंग और सौंदर्य प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए प्रोत्साहन मिला।

हर साल होती है प्रतियोगिता (Every year there is competition)

ये प्रतियोगिता हर साल विभिन्न देशों में आयोजित की जाती है। पिछले साल कोरोना के कारण प्रतियोगिता नहीं हो सकी थी। दिव्या ने बताया कि यह एक प्रतियोगिता नहीं, बल्कि जीवन यात्रा है। कोई किसी से आगे या पीछे नहीं, हम सभी स्टूडेंट्स और हम ही टीचर हैं। सीखना और सिखाना हमारी ड्यूटी है।

शादी के बाद हासिल की डिग्रियां (Degrees obtained after marriage)

इस दौरान दिव्या ने पढ़ाई जारी रखी। उन्होंने PhD, MBA और MA की डिग्रियां भी हासिल कीं। वर्ष 2018 में एक साल के बेटे आर्यमन को साथ लेकर दिव्या पाटीदार जोशी दिल्ली गईं। वहां मिसेज इंडिया माय आईडेंटिटी अवाॅर्ड (Mrs India My Identity Award) जीता। इसके बाद दिव्या को टाइम्स ऑफ इंडिया द्वारा मध्य प्रदेश की सबसे प्रभावशाली महिलाओं के रूप में भी सूचीबद्ध किया गया।

एनजीओ भी चलाती हैं दिव्या (Divya also runs an NGO)

दिव्या बच्चों और महिलाओं के हितों के लिए एनजीओ भी चलाती हैं। वह ‘द ग्रोइंग वर्ल्ड फाउंडेशन’ व ‘द ग्रोइंग इंडिया फाउंडेशन’ द्वारा महिलाओं व बच्चों के विकास के लिए कार्य कर रही हैं। दिव्या ने सोशल वर्क में पीएचडी और MBA मार्केटिंग व एचआर, एमए इंग्लिश, एमए म्यूजिक की एजुकेशन ली है।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read