दिल्ली में त्योहारों के मद्देनजर आतंकवादी घटनाओं की आशंका : HIGH ALERT पर दिल्ली पुलिस

 
दिल्ली में त्योहारों के मद्देनजर आतंकवादी घटनाओं की आशंका : HIGH ALERT पर दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में त्योहारों के मद्देनजर आतंकवादी घटनाओं की आशंका बनी हुई है। यही वजह है कि दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट पर है। दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना  ने इसको लेकर अपने शीर्ष अधिकारियों के साथ एक बैठक की।

दरअसल दिल्ली पुलिस के मुताबिक उन्हें त्योहारी सीजन के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में एक आतंकवादी हमले के इनपुट मिले हैं। यही वजह है कि बैठक में इसको लेकर अहम चर्चा हुई। बैठक में इस बात की भी चर्चा हुई है आतंकवादियों को स्थानीय लोगों की मदद लेने से कैसे रोका जाए।

पुलिस कमिश्‍नर राकेश अस्‍थाना ने कहा कि जब तक कि स्‍थानीय लोगों का समर्थन न मिले. तब तक आतंकी हमले की संभावना काफी कम रहती है, यही वजह है कि दिल्ली पुलिस इसको लेकर काफी सतर्क है।

अस्थाना ने कहा, पुलिस को आशंका है कि स्थानीय अपराधी, गैंगस्टर और रूढ़िवादी तत्व इस तरह के हमले में मदद कर सकते हैं।

पेट्रोल पंप और टैंकरों को बनाया जा सकता है निशाना

पुलिस कमिश्‍नर अस्थाना के मुताबिक खुफिया एजेंसी का इनपुट है कि पेट्रोल पंप और पेट्रोल टैंकरों को निशाना बनाया जा सकता है। ऐसे में इन स्थानों को लेकर भी पुलिस विशेष रूप से सतर्क है।

चलेगा डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन अभियान

दिल्ली पुलिस आतंकी हमले की आशंका के बीच राजधानी में किराएदारों और कर्मचारियों के वेरिफिकेशन का अभियान चलाएंगी। इसके साथ ही साइबर कैफे, केमिकल की दुकानें, पार्किंग की जगहों, कबाड़ और कार मालिकों की पेशेवर तरीके से जांच और निगरानी की जाएगी।

इसके अलावा कम्यूनिटी पुलिसिंग पर ध्‍यान देने के साथ ही पुलिस ङज़्ॠ और अमन कमेटी के साथ बैठकें करेगी। यही नहीं रेहड़ीवालों और चौकीदारों के साथ ‘आंख और कान योजना’ से जुड़े लोगों के साथ भी समन्‍वय करेगी।

सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

त्योहारों को लेकर चल रहे समारोहों को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि लोगों की सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है। इसके चलते पुलिस कर्मियों को सड़कों पर तैनात किया गया है ताकि इलाके के प्रभुत्व के लिए चौकियों पर गश्त और चेकिंग तेज की जा सके।

पुलिस की 'आंख और कान' बनने की अपील

पुलिस ने नागरिकों से अपनी आंख और कान बनने और क्षेत्र में किसी भी असामाजिक तत्व के बारे में सूचित करने का भी अनुरोध किया है।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read