GOOD NEWS : 10 जुलाई से महू कालाकुंड ट्रेन शुरू : जानिए क्या होगा इस ट्रेन का रुट

 

GOOD NEWS : 10 जुलाई से महू कालाकुंड ट्रेन शुरू : जानिए क्या होगा इस ट्रेन का रुट

तीन माह से बंद महू से कालाकुंड के बीच चलने वाली हेरिटेज ट्रेन 10 जुलाई से फिर शुरू होगी। खास बात यह कि हाल ही में हुई बारिश से कालाकुंड की वादियां फिर से हरी-भरी हो गई है। इसके साथ ही पातालपानी-काला कुंड के बीच पड़ने वाले झरने का भी लोग लुत्फ ले सकेंगे। यह ट्रेन अब हफ्ते में सातों चलेगी।

उक्त ट्रेन रेलवे ने मार्च 2022 में बंद कर दी थी। इसके पूर्व रेल्वे ने इसे हफ्ते में दो दिन शनिवार व रविवार को संचालन किया था लेकिन अब खूबसूरत मौसम और लोगों की मांग के मद्देनजर इसे सातों दिन चलाने का निर्णय लिया गया है। इसके पूर्व शुक्रवार को हेरिटेज ट्रेन का ट्रायल लिया गया। इस अभी शुरू करने का खास कारण यह है कि हाल ही में हुई बारिश से महू-कालाकुंड के बीच की वादिया और प्राकृतिक मनोहारी दृश्य लोगों को काफी लुभा रहे हैं और झरनों से भी पानी बहने लगा है।

महू से सुबह 11.05 बजे होगी रवाना

- हेरिटेज ट्रेन सुबह 11.05 बजे रवाना होगी और दोपहर 1.25 बजे कालाकुंड पहुंचेगी।

- कालाकुंड से दोपहर 3.35 बजे चलेगी और शाम 4.30 बजे महू पहुंचेगी।

- इसमें दो विस्टाडोम कोच व तीन नॉन ऐसी चेयरकार होंगे।

- एसी के लिए दोनों ओर का किराया मिलाकर 530 रु. होगा जबकि नॉन एसी का किराया 40 रु. रहेगा।

- ट्रेन की ऑन लाइन बुकिंग की सुविधा भी है।

टंटया भील समाधि के पास स्टेशन

रेलवे ने करीब डेढ़ सौ साल पुराने पातालपानी-कालाकुंड मीटर गेज ट्रेन के ट्रेक को हेरिटेज के रूप में संवारा है। इन स्टेशनों के साथ ही ब्रिज व पुरानी सुरंग को भी नया रूप दिया है। टंटया भी की समाधि स्थल पर रुकने के लिए विभाग ने स्टेशन बनाया है। महू से रवाना होने के बाद पहले पाइंट यानी टंट्या भील के समाधि स्थल के पास ट्रेन करीब पौन घंटा रुकेगी। ऐसे में लोग यहां हरी-भरी वादियों, झरनों को निहार सकेंगे। विभाग ने तीन अन्य बोगदों भी स्टापेज रखा है लेकिन यहां ट्रेन 10-10 मिनिट रुकेगी। अहम यह कि पर्यटकों को अब शनिवार या रविवार के भरोसे नहीं रहना पड़ेगा। वे हफ्ते में कभी भी परिवार सहित हेरिटेज ट्रेन से सफर कर आनंद ले सकते हैं।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read