MP : साइबर ठगी का मामला : 76 साल के रिटायर्ड शिक्षक से की अश्लील बातें फिर न्यूड होकर बाथरूम में बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी देकर 3 लाख 65 हजार ठगे

 

MP : साइबर ठगी का मामला : 76 साल के रिटायर्ड शिक्षक से की अश्लील बातें फिर न्यूड होकर बाथरूम में बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी देकर 3 लाख 65 हजार ठगे

एमपी के राजगढ़ में साइबर ठगी का मामला सामने आया है। यहां एक 76 साल के रिटायर्ड शिक्षक को वाट्सएप पर लड़की ने कॉल किया और झांसे में ले लिया। उसने टीचर से अश्लील बातें करते हुए बाथरूम में जाकर वीडियो कॉल कर दिया। बातों में फंसाकर उसने टीचर के साथ हरकत करते हुए वीडियो बना लिया। कुछ दिन बाद सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने की धमकी देकर अलग-अलग किश्त में 3 लाख 65 हजार रुपए ठग लिए। पुलिस ने टीचर की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है। ठगी के शिकार टीचर विभिन्न ज्योतिष संस्था द्वारा सम्मानित एवं गोल्ड मेडलिस्ट हैं।

यह है घटनाक्रम

राजगढ़ के वार्ड - 5 में रहने वाले 76 साल के रिटायर्ड टीचर ने साइबर ठगी की शिकायत कोतवाली थाने में की है। उन्होंने बताया कि 14 अक्टूबर को सोशल मीडिया अकाउंट पर रिक्वेस्ट आई, जिसे उन्होंने एक्सेप्ट कर लिया। 15 अक्टूबर को 7440136935 नंबर से दोपहर में कॉल आया। उधर से किसी लड़की ने बात करना शुरू किया। कुछ देर बात करने के बाद उसने अश्लील बातें करना शुरू कर दी। इस पर मैंने तत्काल फोन काट दिया।

कुछ देर बाद मेरे वाट्सएप नंबर पर कॉल आया। वीडियो कॉल पर एक लड़की थी। लड़की कॉल के दौरान बाथरूम में न्यूड थी। मैंने फोन काट दिया। इसके बाद रात करीब 10 से 11 बजे के बीच उसने फिर से वीडियो कॉल किया। कॉल कर उसने फिर से वही सब शुरू कर दिया। उसने मुझसे कहा कि मैंने आपका और मेरा वीडियो बना लिया है। 18 अक्टूबर को दोपहर 11 से 12 बजे के बीच फिर से 9718156283 नंबर से काॅल आया।

काॅल करने वाले ने अपना नाम प्रमोद कुमार राठौर बताया। उसने कहा - वह नोएडा क्राइम ब्रांच एसपी में है। उसने कहा कि आपका कोई अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर आ गया है। इसे हटवा दो। यह सुन मैं घबरा गया। मुझे यू-ट्यूब वाले का बोलकर कोई नंबर दिया और कहा - इससे तत्काल बात करो। मैंने, जब उस नंबर पर कॉल किया तो वे मुझे धमकाने लगे।

उन्होंने तत्काल मुझसे 1 लाख 30 हजार रुपए नीतेश कुमार HDFC बैंक के खाता नंबर 50100452252449 बूंदी के नंबर पर डालने को कहा। मैंने डर और प्रतिष्ठा के डर से राशि जमा करवा दी। रुपए डालने के बाद मैंने अपना फोन बंद कर लिया। 21 अक्टूबर को जब मैंने फोन ऑन किया तो फोन बजा, सामने प्रमोद कुमार थे। जिन्होंने नोएडा क्राइम ब्रांच का एसपी बताया। उन्होंने कहा - आपकी लोकेशन ट्रेस कर ली है। आपको एक घंटे के भीतर हम गिरफ्तार कर लेंगे। अगर बचना चाहते हो, तो तत्काल 2 लाख 35 हजार रुपए खाते में डलवा दो। इस पर मैंने फिर से रुपए जमा करवा दिए। बाद में मुझे ठगी का एहसास हुआ जिसके बाद कोतवाली थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज करवाई।

Related Topics

Share this story

From Around the Web

Most Read