BIG ACTION IN REWA LOKAYUKT : वर्ष 2013 के बाद 2022 में 25 सौ की रिश्वत लेते पटवारी ट्रैप

 
image

रीवा। लोकायुक्त टीम रीवा ने पटवारी (patwari) को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। पटवारी निर्माण कार्य में आपत्ति लगाकर रिश्वत की मांग कर रहा था। इसके पहले भी वर्ष 2013 में आरोपित पटवारी 25 सौ की रिश्वत लेते पकड़ा जा चुका है। यह कार्रवाई बुधवार को रतहरा स्थित पटवारी के कार्यालय में की गई है। जियाउल हक (Ziaul Haq) लोकायुक्त ट्रेप (lokayukta trap) अधिकारी की मौजूदगी में 12 सदस्यीय टीम ने कार्रवाई की।

अनुराग मिश्रा प्रॉपर्टी डीलर (Anurag Mishra Property Dealer) ने लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की थी कि रतहरा हल्का पटवारी धीरज पांडे (Patwari Dheeraj Pandey) निर्माण कार्य में आपत्ति लगाकर रिश्वत की मांग कर रहे हैं। शिकायत के बाद लोकायुक्त टीम ने जांच की। बारीकी से जांच करने के बाद बुधवार को योजनाबद्ध तरीके से जाल बिछाया गया। दोपहर करीब 12 बजे पटवारी धीरज पांडे को लोकायुक्त टीम ने 10 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है।

2013 में पकड़े गए थे धीरज

धीरज पांडे पटवारी (Patwari Dheeraj Pandey) को 30 दिसंबर 2013 में नामांतरण और ऋण पुस्तिका बनाने के एवज में रिश्वत की मांग की गई थी। लोकायुक्त टीम रीवा ने 25 सौ रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया था। इंस्पेक्टर जियाउल हक निरीक्षक लोकायुक्त, अप पुलिस अधीक्षक प्रवीण सिंह, मुकेश मिश्रा, शैलेंद्र, शिवेंद्र, धर्मेंद्र, सुजीतपंच साक्षी (Inspector Jiaul Haq Inspector Lokayukta, Up Superintendent of Police Praveen Singh, Mukesh Mishra, Shailendra, Shivendra, Dharmendra, Sujitpanch Sakshi) सहित 12 सदस्य टीम मौजूद रहे।

इनका कहना

पटवारी की शिकायत मिली थी शिकायत के आधार पर जांच की गई। दस हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। इसके पहले भी 25 सौ रुपये रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। गोपाल धाकड़, अधीक्षक लोकायुक्त

Related Topics

From Around the Web

Latest News