REWA : शादी के नाम पर धोखाधड़ी : एक लाख रुपए लेकर रेलवे स्टेशन से फरार, लुटेरी दुल्हन सहित मां-बाप और पंडित निकले फर्जी

 
दुल्हन सहित मां-बाप और पंडित निकले फर्जी
डेढ़ लाख लेकर मंदिर में लिए थे सात फेरे, दूल्हा राजस्थान के सीकर का

REWA NEWS: रीवा रेलवे स्टेशन से एक दुल्हन के फरार होने का मामला सामने आया है। सूत्रों की मानें तो हरियाणा में रह रही राजस्थान की महिला के भाई की शादी नहीं हो रही थी। ऐसे में 6 माह पहले रीवा के युवक से दोस्ती हो गई। वह बहना-बहना कह कर घर वालों से घुल मिल गया।

ऐसे में दोनों लोग एक दूसरे से अपना दुख दर्द शेयर करने लगे। एक दिन महिला ने कहा कि सब कुछ अच्छा है, लेकिन मेरे भाई की शादी नहीं हो रही है। अगर आपके रीवा तरफ कोई लड़की हो तो शादी करा दो। यहीं से रीवा का युवक ठगी का प्लान बना लिया है।

लुटेरी दुल्हन

ऐसे शुरू हुई शादी की कहानी

रीवा के युवक ने महिला को 5 लड़कियों को फोटो दिखाई। जब एक लडकी को महिला ने पसंद कर लिया तो युवक ने कहा कि लडकी गरीब परिवार की है। ऐसे में एक लाख रुपए लगेंगे। फिर भी महिला राजी हो गई। उसने अपने भाई और परिवार को कहानी बताई। 7 सितंबर को शादी की डेट तय हो गई। राजस्थानी परिवार ने कहा कि शादी लडकी के घर से हो, लेकिन बिचौलिए ने कहा कि लडकी के परिवार वाले शादी के खिलाफ है। ऐसे में मंदिर में शादी हो जाएगी। आप लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है।

चोरहटा थाने पहुंचे शिकायत लेकर

ठगी का शिकार परिवार 7 सितंबर की शाम लुटेरी दुल्हन की रिपार्ट दर्ज कराने चोरहटा थाने पहुंचे। कहा कि रीवा रेलवे स्टेशन से दुल्हन फरार हो गई है। बताया कि वह राजस्थान के सीकर जिले में रहने वाले है। 7 सितंबर को कैलाश चन्द्र वर्मा की शादी कराने रीवा आए थे। हिन्दू रीति रिवाज से रीवा जिले में नहर के किनारे एक मंदिर से शादी हुई है। हालांकि मंदिर कहा है यह पीडित परिवार को जानकारी नहीं है।

शादी के चार घंटे बाद दुल्हन फरार

पीडित परिवार ने दावा किया कि कैलाश चन्द्र वर्मा की शादी शिवानी नाम की लडकी से हुई है। शादी से पहले बिचौलिए ने एक लाख रुपए की रकम नकद ली। इसके बाद लडकी के माता और पिता पंडित लेकर पहुंचे। दोपहर में शादी संपन्न होने के बाद विदाई हो गई। शाम को एक ही आटो में दुल्हा व दुल्हन, दुल्हे का जीजा व दीदी अपने साथ दुल्हन की मां को लेकर रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई। दुल्हन की मां बस स्टैंड में उतर गई। वहीं दुल्हन शादी के चार घंटे के भीतर रेलवे स्टेशन से चकमा देकर भाग गई।

शादी वाला स्थान मिल रहा न दुल्हन पक्ष के लोग

सूत्रों की मानें तो राजस्थान का पीडित परिवार घटना के बाद से परेशान है। वे पहले जीआरपी थाने रिपार्ट दर्ज कराने पहुंचे। इसके बाद वहां से चोरहटा थाने गए, लेकिन घटना स्थल गुढ क्षेत्र अथवा गोविंदगढ प्रतीत होने पर एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। पीडित परिवार न लडकी का घर जानते है न नाम व पता। उनके पास सिर्फ शादी के फोटो व मोबाइल नंबर है। ऐसे में साइबर सेल से मदद ली जा रही है। फिलहाल इस मामले की कहीं रिपार्ट नहीं दर्ज हुई है।

Related Topics

From Around the Web

Latest News