GOOD NEWS : MP में अब FINAL ईयर के UG-PG छात्र घर बैठ दे सकेंगे परीक्षा


भोपाल। कोरोना संकट के चलते अपनी परीक्षाओं का इंतज़ार कर रहे छात्रों के लिये राहत भरी ख़बर है कि उच्च शिक्षा में स्नातक प्रथम, द्वितीय वर्ष व स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं को पिछले साल के परीक्षा परिणाम और वर्तमान सत्र के आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। यूजी अंतिम वर्ष व पीजी चतुर्थ सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं की परीक्षाएँ निवास में ही रहकर ओपन बुक प्रणाली से कराई जाएंगी। मुख्यमंत्री ने सोमवार को स्पष्ट किया, विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन देने पर उनकी डिग्री पर सवाल उठाए जाते हैं, इसलिए जनरल प्रमोशन देने के बजाय ओपन बुक प्रणाली से परीक्षा लेने का निर्णय लिया है।


ऐसे होगी परीक्षा

विद्यार्थियों को उनके लॉगिन आईडी व तय वेबसाइट पर प्रश्न-पत्र उपलब्ध होंगे। कॉपी तय संग्रहण केंद्र में जमा करानी होगी। गत वर्षों के प्राप्तांकों का 50 प्रति
शत वेटेज तथा ओपन बुक परीक्षा के प्राप्ताकों का 50 प्रतिशत वेटेज देते हुए परिणाम घोषित किए जाएंगे।


ऑनलाइन होगी तकनीकी परीक्षा

राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की परीक्षा 24 अगस्त से 14 सितंबर के बीच ऑनलाइन होगी। तकनीकी-गैर तकनीकी कॉलेजों में अंतिम वर्ष और सेमेस्टर परीक्षाएँ कराने में आरजीपीवी ने अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाओं के लिए सोमवार को टाइम टेबल जारी किया। ऑनलाइन परीक्षाएँ 24 अगस्त से 14 सितंबर तक होंगी। जो विद्यार्थी परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे, उन्हें 15 से 23 सितंबर के बीच दोबारा मौका मिलेगा। इधर, उच्च शिक्षा विभाग परीक्षाओं के आयोजन को लेकर असमंजस में है। सीएम के निर्देश के बावजूद अभी तक विभाग कोई निर्णय नहीं ले सका है।


परीक्षा की तारीख तय

बीई सैद्धांतिक परीक्षा: 24, 26, 28, 31 अगस्त

बी फार्मेसी सैद्धांतिक परीक्षा: 24, 26, 28, 31 अगस्त और 2 सितंबर

प्रायोगिक परीक्षाएँ: 4 से 9 सितंबर 2020

डिप्लोमा सैद्धांतिक परीक्षाएँ: 27 अगस्त से 7 सितंबर तक

डिप्लोमा प्रायोगिक परीक्षाएँ: 8 से 14 सितंबर तक

अनुपस्थित विद्यार्थियों के लिए विशेष परीक्षाएँ: 15, 17, 19, 21 एवं 23 सितंबर

मप्र के गठन के बाद बिना परीक्षा के रिजल्ट बनाने, जनरल प्रमोशन देने की स्थिति आपदा या युद्ध में भी नहीं बनी। 70 साल में पहली बार 2020 में कोविड संक्रमण के कारण छात्रों की सुरक्षा के लिए बिना परीक्षा के रिजल्ट बनाना जरूरी है। उच्च शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में गाइडलाइन तैयार की गई है।इ


Powered by Blogger.