शिवराज का MASTER STROKE, मध्यप्रदेश में 52 जिलें के बाद बागली बनेगा 53वां नया जिला


भोपाल.   Jyotiraditya Scindia के भाजपा में आने के बाद से पार्टी के कई नेता अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर दुविधा की स्थिति में हैं। हाटपिपल्या विधानसभा सीट ( Hatpipliya ) से पूर्व विधायक  Deepak Joshi की नाराजगी की कई बार खबरें आईं लेकिन अब Shivraj Singh Chouhan  ने इस नाराजगी को दूर करने के लिए बड़ा कदम उठाया है। मंगलवार को देवास दौरे पर पहुंचे सीएम शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है कि बागली ( Bagli New District ) मध्यप्रदेश का नया जिला बनेगा। बता दें कि अभी मध्यप्रदेश में 52 जिले हैं बागली के जिला बनने के बाद मध्यप्रदेश में 53 जिले हो जाएंगे।

कैलाश जोशी की इच्छा थी: सीएम

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को प्रदेश के देवास जिले की बागली तहसील को जिला बनाये जाने की घोषणा की। देवास जिले हाटपीपल्या में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत कैलाश जोशी की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद समारोह को संबोधित करते हुए चौहान ने कहा, बागली जिला बने, यह कैलाश जोशी जी की इच्छा थी। उनकी इस इच्छा को उनके जन्मदिवस पर पूरा करते हुए मैं बागली को जिला बनाने की घोषणा करता हूं। उन्होंने कहा मैं अपना वचन पूरा करूंगा। उन्होंने कहा कि बागली को जल्द ही जिला बनाने की कार्रवाई शुरू की जाएगी।

बागली से सात बार विधायक रहे कैलाश जोशी
बता दें कि देवास जिले की बागली विधानसभा सीट से मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम केलाश जोशी सात बार लगातार विधायक रहे। कैलाश जोशी के बेटे दीपक जोशी भी बागली विधानसभा सीट से विधायक रह चुके हैं।

क्या ये डैमेज कंट्रोल है?
मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहाव की सरकार बने 100 दिन से ज्यादा का समय हो गया है, लेकिन उसके बाद भी भाजपा के सीनियर नेताओं को ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक नेताओं के साथ सामंजस्य बैठाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व मंत्री दीपक जोशी की नाराजगी लगातार बढ़ती जा रही थी। हाटपिपल्या विधानसभा सीट से भाजपा के संभावित उम्मीदवार मनोज चौधरी को लेकर भाजपा में असंतोष बढ़ता जा रहा था। दीपक जोशी कई बार ऐसे बयान दे चुके थे जिस कारण पार्टी के सीनियर लीडर भी संशय में थे। अब शिवराज सिंह चौहान ने बागली को जिला बनाकर क्या डैमज कंट्रोल करने की कोशिश की है।




Powered by Blogger.