RAILWAY : जल्द शुरु हो सकता है इन प्रमुख ट्रेनों का संचालन, रेल मंत्रालय की हरी झंडी का इंतजार


इंदौर । कोरोना काल में लगे लॉकडाउन के चलते इंदौर रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का संचालन बीते सवा तीन महीने से बंद है। स्टेशन की रौनक ख़त्म सी हो गयी है, लेकिन अब जुलाई महीने से स्टेशन में रौनक लौटाने का प्रयास किया जा रहा है। इंदौर से छह ट्रेनों के संचालन के लिए रेल मंत्रालय से अनुमति मांगी गई है।


सांसद शंकर लालवानी ने रेल मंत्री से प्रमुख ट्रेन का संचालन शुरू करने की गुहार भी लगाईं थी और अब रेलवे प्रशासन अनुमति आने के इंतज़ार में है।


दरअसल कोरोना वायरस के चलते मार्च के अंतिम दिनों में देशभर में ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था, हालात सुधरने के बाद 1 जून से 100 ट्रेनों का संचालन प्रारंभ किया गया, लेकिन इंदौर कोरोना का बड़ा हॉटस्पॉट होने के कारण एक भी ट्रेन का संचालन शुरू नहीं किया गया, हांलाकि इस दौरान रेलवे ने 12 अगस्त तक सभी ट्रेनों का संचालन बंद रखने का निर्णय लिया है,लेकिन जरूरत के हिसाब से अलग अलग ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा सकता है।


रेलवे बोर्ड द्वारा देश के अलग-अलग जोन से जरूरी ट्रेनों के संचालन की जानकारी भी मांगी गई थी,जिसके तहत पश्चिम रेलवे ने इंदौर स्टेशन से चलने वाली 6 ट्रेनों के नाम भेजे हैं। इसमें शिप्रा एक्सप्रेस,इंदौर-पुणे-इंदौर,मालवा एक्सप्रेस,अवंतिका एक्सप्रेस,शांति एक्सप्रेस और कामाख्या एक्सप्रेस शामिल हैं। ट्रेनों की आवाजाही शुरू करने के लिए सांसद शंकर लालवानी ने रेलमंत्री पीयूष गोयल से फोन पर चर्चा की है। लालवानी ने बताया कि फ़िलहाल छह ट्रेन को चलाने की मांग की गयी है। वहीं रेलवे अधिकारी के मुताबिक कोरोना के चलते तीन महीने से ट्रेन प्रतिबंधित है,लेकिन जल्द ट्रैन का संचालन शुरू हो सकता है,रेलवे की तैयारी पूरी है, बस मंत्रालय से हरी झंडी का इंतज़ार है।



Powered by Blogger.