बलिया SDM ने जनता को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया निलंबित



बलिया SDM ने जनता को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया निलंबित


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलिया के बेल्थरा रोड में लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने वाले मामले में एसडीएम को निलंबित कर दिया है. एसडीएम की पिटाई से कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. एक दुकानदार का तो हाथ ही फट गया था.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां जारी बयान में बताया कि बेल्थरा रोड, जनपद बलिया के उपजिलाधिकारी अशोक चौधरी द्वारा जनता के साथ किए गए दुर्व्यवहार की घटना का संज्ञान लेते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में अशोक चौधरी को निलंबित करते हुए राजस्व परिषद से संबद्ध किया गया है.

Also Read - बॉलीवुड स्टार सलमान खान की हत्या करने की साजिश, आरोपी को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

तहसील परिसर, सड़क पर तथा बाजार में एसडीएम बिल्थरा रोड अशोक चौधरी द्वारा लोगों को लाठियों से पिटाई को लेकर व्यापारियों में नाराजगी है. मामले को बढ़ने की सम्भावना है. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही उपजिलाधिकारी की यह कार्यशैली कटघरे में आ गयी.

ज्ञात हो कि बलिया जिले की बिल्थरा रोड तहसील के पास गुरुवार को एसडीएम अशोक चौधरी ने सोशल डिस्टेसिंग व मास्क का प्रयोग नहीं करने वालों के खिलाफ अभियान शुरू किया. पुलिस के साथ पहुंचे एसडीएम ने एकाएक लोगों को घेर पर पीटना शुरू कर दिया.

इसके बाद भगदड़ मच गयी. लोग इधर-उधर भागने लगे. पुलिस व होमगार्ड के जवानों के साथ तहसील परिसर में लोगों की पिटाई करने के बाद वह बाजार की ओर चल पड़े. सड़क से गुजरते समय बाइक सवार लोगों पर लाठी बरसाई.

Also Read - Good News: Airtel अब डेटा के साथ फ्री में Disney+Hotstar VIP सब्सक्रिप्शन मिलेगा, दो नए प्लान किए...

इसके बाद वह चौकिया मोड़ पर पहुंचे जहां अपनी किराने की दुकान पर मौजूद रजत चौरसिया को दुकान से बाहर खींचकर पिटाई करने लगे. एसडीएम की पिटाई से उसका एक हाथ फट गया और खून बहने लगा. भाई को बचाने व एसडीएम के सामने अपना पक्ष रखने पहुंचे आशुतोष चौरसिया को भी उपजिलाधिकारी ने लाठियों से पीटा और जवानों के साथ उभांव थाना भेज दिया.

एक दुकानदार ने मास्क लगा रखा था, जबकि दूसरे ने अपने मुंह पर रुमाल बांध रखा था. यही नहीं, वायरल वीडियो में एक युवक मास्क लगाए खड़ा है. उसे भी एसडीएम दौड़ाकर लाठियों से पीटते दिख रहे हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने व मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना व महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करने का प्रावधान है. ऐसे में एसडीएम द्वारा लोगों को लाठियों से पीटना पूरी तरह से गलत है.





Powered by Blogger.