UP : हाथरस के बाद अब बाराबंकी में एक दलित नाबालिग से दुष्कर्म के बाद हत्या, मिली अर्द्धनग्न लाश

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। हाथरस के बाद अब बाराबंकी में एक दलित नाबालिक लड़की के साथ दुष्कर्म और हत्या का केस सामने आया है। पीड़िता के परिवार का आरोप है कि पुलिस केस दबाने की कोशिश में लगी है। यहां भी पुलिस पर आरोप है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने से पहले ही अंतिम संस्कार करवा दिया गया। अब तक की जानकारी के मुताबिक, लड़की बुधवार को धान काटने खेत में गई थी। देर रात तक नहीं लौटी तो परिजन ने तलाश की, तब उसकी लाश मिली। शुरुआती जांच में पता चला है कि गर्दन से हाथ बांधकर दरिंदगी की और फिर हत्या भी कर दी। मामला थाना सतरिख थाना क्षेत्र का है।

दो मनचलों से परेशान छात्रा का दिनदहाड़े नदी में मिला शव, पुलिस ने नहीं सुनी शिकायत : परिजनों ने किया चक्काजाम

इससे पहले प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस कांड के बाद महिलाओं तथा बच्चों के साथ होने वाली घटनाओं को लेकर बेहद सख्त रुख अपनाया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे मिशन शक्ति के तहत पहले चरण में शोहदे व असामाजिक तत्वों को सूचीबद्ध किया जाए और दशहरे के बाद पुलिस उन पर कहर बनकर टूटे। मुख्यमंत्री ने अल्टीमेटम दिया कि दुराचारियों व शोहदों पर ऐसी कठोर कार्रवाई होनी चाहिए, जिससे वे गले में तख्ती लटकाकर माफी मांगते घूमें या फिर प्रदेश छोड़कर भाग खड़े हों। महिलाओं, बेटियों, बच्चों व अनुसूचति जाति के लोगों के साथ होने वाले अपराधों में कार्रवाई का सीधा संदेश जाना चाहिए।

कपड़ों की तरह ये महिला बदलती थी पति, ऐसे फसाती थी लोगो को अपने जाल में और फिर करती थी .

योगी ने गुरुवार को नवरात्र, दशहरा, दीपावली समेत आने वाले अन्य त्योहारों की सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा की और कई कड़े निर्देश दिए।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे   

Powered by Blogger.