MP : दिल दहला देने वाली वारदात / पत्नी की हत्या करने के बाद पति बोला मुझे कोई अफसोस नहीं

इंदौर। 22 वर्षीय पत्नी अंशु की हत्या करने के बाद हर्ष शव के समीप बैठकर रोता रहा। कुछ देर बाद उसका पिता राजीव उर्फ राजू शर्मा पहुंचा और पुलिस को घटना बताई। अंशु की मां संतोषी दरकुनिया का आरोप है कि राजीव और उसकी पत्नी नम्रता भी हत्या में शामिल हैं। संयोगितागंज थाना पुलिस ने बुधवार दोपहर को अंशु का पीएम करवाकर शव स्वजन के सुपुर्द कर दिया। पुलिस के मुताबिक, रिपोर्ट में डॉक्टरों ने बताया कि अंशु के गले, चेहरे, सीने आदि जगह हथियार के घाव थे। पुलिस ने दोपहर को पलंग के नीचे से हथियार बरामद कर लिया जबकि जंजीर अंशु के गले में लिपटी मिली थी।

युवक ने कोल्‍ड ड्रिंक में नशीले पदार्थ मिलाकर बनाये शारीरिक संबंध, वीडियो बनाकर करने लगा ब्लैकमेल : फिर हुए ये.

दोपहर को पुलिस ने हर्ष से सख्ती से पूछताछ की तो वह हर सवाल का जवाब देता रहा। उसने तो यह भी कहा कि मुझे अंशु की मौत का अफसोस नहीं है। पहले हत्या कर भागना चाहता था, लेकिन बाद में पिता को कॉल कर घटना बताई और वहीं बैठा रहा। कुछ देर बाद अंशु की मां संतोषी व अन्य स्वजन थाने पहुंच गए। राजीव उन्हें बाहर ही मिला और हाथ जोड़कर कहा कि हमें बचा लेना। हमने कुछ नहीं किया है। जब बेटी के बारे में पूछा तो गर्दन झुका ली। संतोषी ने आरोप लगाया कि हत्या में राजीव और नम्रता भी शामिल हैं। राजीव ने करीब 11 बजे भी कॉल कर कहा था कि आपसे कुछ बात करनी है। उस वक्त पीछे से महिला की आवाज सुनाई दे रही थी। घटना से गुस्साए स्वजन ने दोपहर को छावनी चौराहे पर विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने पुलिस पर मुलजिमों को बचाने का आरोप भी लगाया।

पिता जालसाज, पुत्र शराबी

राजीव एडवाइजरी कंपनियां चलता है। वह निवेशकों से धोखाधड़ी करने के आरोप में जेल भी जा चुका है। उसके विरुद्ध कई थानों में शिकायतें दर्ज हैं। बेटा हर्ष शराब पीने का आदी है। उसकी कई लड़कियों से दोस्ती है। अंशु से शादी करने के बाद घरवालों से बोलता था कि अंशु को प्रेम से रखता है। उसे कोई काम नहीं करने देता। जबकि वह कभी अकेले में बात भी नहीं करने देता था।

Powered by Blogger.