MP : एक्शन में शिवराज ,बोले -रेप पीड़िता का FIR नहीं लिखने वाले चौकी प्रभारी होंगे गिरफ्तार : SP और SDOP को तत्काल प्रभाव से हटाने के दिए निर्देश

भोपाल: नरसिंहपुर में दलित महिला के साथ गैंगरेप के बाद आत्महत्या का मामले में मीडिया की खबर का असर हुआ है। खबर प्रसरित किए जाने के बाद मामले में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने संज्ञान लेते हुए चौकी प्रभारी को गिरफ्तार करने और तत्काल प्रभाव से एडिशनल एसपी, एसडीओपी हटाने का निर्देश दिया है। साथ ही एसपी से स्पष्टीकरण मांगा है। हालांकि अभी एसपी छुट्टी पर हैं। मामले को लेकर सीएम ​शिवराज ने कहा है कि मध्यप्रदेश में माता बहनों के साथ अपराध किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बता दें कि मामले में अब तक दो आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है।

इस जिले के शिक्षक अब क्रमोन्नति को लेकर आंदोलन की राह पर ,कार्यवाही न होने से शिक्षक नाराज

दरअसल रीछई गांव में एक दलित महिला गैंगरेप की शिकायत दर्ज कराने थाना पहुंची थी। लेकिन पीड़ित परिवार वालों के साथ पुलिस ने मारपीट की। पीड़िता के पति को पुलिस ने जेल में बंद कर दिया। दूसरी ओर गैंगरेप की शिकार पीड़िता शिकायत नहीं लिखने और पति को जेल में बंद करने की घटना के बाद वह फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

15 अक्‍टूबर से खुलेंगे स्‍कूल, सिनेमा : पढ़िए कहा- क्या खुला : गाइडलाइन जारी

बतया गया कि पीड़ित परिवार वालों ने गांव के ही तीन लोगों के खिलाफ गैंगरेप का केस दर्ज कराने थाना पहुंचे थे। लेकिन चीचली थाना पुलिस ने शिकायत दर्ज नहीं किया। बल्कि पीड़िता के पति को जेल में भी बंद कर दिया। परिवार वालों के अनुसार दो हजार लेकर उसे छोड़ा है।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

Powered by Blogger.