MP : तीन महीने में भी नहीं हुई अस्पताल में चूहों द्वारा शव कुतरने की घटना की मजिस्ट्रियल जांच

इंदौर । यूनिक अस्पताल में बुजुर्ग नवीनचंद्र जैन के शव को चूहों ने कुतर लिया था। इस मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश हुए करीब तीन महीने हो चुके हैं, लेकिन अब तक जांच रिपोर्ट नहीं आई है। इसे लेकर मृत बुजुर्ग के बेटे प्रकाश जैन ने व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं। उनका कहना है कि अधिकारी पहले दीपावली का बहाना बनाते रहे, फिर विधानसभा उपचुनाव आ गए, लेकिन अब तक रिपोर्ट नहीं आई है। मैं समझ रहा हूं, यह देरी क्यों हो रही है।

 पुनः नियुक्त नहीं होंगे अतिथि शिक्षक, प्राइमरी के टीचर पढ़ाएंगे हाई स्कूल के बच्चों को

दरअसल, हुकुमचंद मार्ग निवासी 87 वर्षीय नवीनचंद्र जैन कोरोना संक्रमित हो गए थे। यूनिक अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। गत 21 सितंबर की रात को अस्पताल में उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गई थी। अस्पताल में मर्च्यूरी न होने से प्रबंधन ने रात में ही उनका शव अस्पताल भवन के तलघर में लापरवाही से रखवा दिया था। सुबह जब स्वजन को शव सौंपा गया तो पता चला कि शव के पैर और अन्य अंग कुतरे हुए थे। इसे लेकर स्वजन और रिश्तेदार बहुत उत्तेजित हो गए थे और अस्पताल और सड़क पर काफी हंगामा किया। लोगों ने चक्काजाम भी कर दिया था।

महिला आरक्षक के साथ संदिग्ध अवस्था में पकड़ाए TI, पत्नी और परिजनों ने जमकर धोया, SP ने दोनों को किया निलंबित

प्रशासन ने मुश्किल से स्थिति को संभाला और अपनी निगरानी में शव का अंतिम संस्कार कराया। कलेक्टर ने उसी दौरान मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए और एडीएम अजयदेव शर्मा को जांच अधिकारी बनाया गया। अब तक की जांच में एडीएम ने जैन परिवार के अलावा यूनिक अस्पताल के जिम्मेदार डॉक्टरों, प्रबंधन और कर्मचारियों के बयान ले लिए हैं। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि जांच अधिकारी ने रिपोर्ट लगभग बना ली है। जल्द ही पेश हो जाएगी।

Powered by Blogger.