CG : बर्खास्त कर्मचारियों की बहाली सहित अन्य मांगों को लेकर स्वास्थ्य संयोजक संघ का आंदोलन, काली पट्टी लगाकर करेंगे काम

रायपुर। छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के दूसरे चरण आंदोलन के बाद आज ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी भी आवाज बुलंद करेंगे। प्रदेश में 5200 उपस्वास्थ्य केंद्रों में पदस्थ लगभग 13500 स्वास्थ्य कर्मचारी काली पट्टी लगाकर काम करेंगे।

मप्र के कई जिलों में हल्की बारिश से आई ठंड की लहर : इन जिलों में गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना

इन स्वास्थ्य कर्मचारियों की मांग है कि उनके ग्रेड पे को बढ़ाकर 2800 किया जाए। इसके अलावा स्वास्थ्य संयोजक कर्मचारी संघ की मांग है कि पिछले आंदोलन में भाजपा सरकार द्वारा बर्खास्त कर्मचारियों की वापस बहाली की जाए।

आचार संहिता लगने से पहले सर्जरी की तैयारी, बदले सकते हैं, सीधी,शहडोल,छतरपुर ,सीहोर समेत इन 8 जिलों के कलेक्टर

इधर संघ का कहना है कि सरकार उनके आंदोलन को हल्के में लेती है तो स्वास्थ्य संयोजक आगे होने वाले राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम और टीकाकरण अभियान को प्रभावित करेंगे। जिसके कोरोना वैक्सीनेशन भी शामिल है। बता दें कि साल 2018 में पिछली सरकार के कार्यकाल में स्वास्थ्य संयोजकों ने 47 दिन का आंदोलन किया था, जिसके बाद भी उनकी मांग नहीं मानी गई थी।

Powered by Blogger.