MP : कोरोना वैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल, प्रदेश की राजधानी में वॉलेंटियर को दिया जा रहा दैनिक भत्ता

भोपाल। राजधानी में स्वदेशी कोरोना वैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा है। यह ट्रायल फिलहाल राजधानी के एक निजी मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। 27 नंवबर से को-वैक्सीन का ट्रायल शुरू हुआ था। शुरूआत में वैक्सीन ट्रायल के लिए वॉलेंटियर्स की काफी कमी देखी गई थी, लेकिन अब ट्रायल के लिए बड़ी संख्या में वॉलेंटियर अस्पताल पहुंच रहे हैं।

 कल से खुलेंगे सभी स्कूल, कक्षाएं शुरू होने से पहले होगी पेरेंट्स-टीचर मीटिंग : निर्देश जारी

वॉलेंटियर बनने वाले लोगों को दैनिक भत्ता भी दिया जा रहा है, ताकि ज्यादा से ज्यादा वॉलेंटियर ट्रायल के तैयार रहें। वॉलेंटियर को हर विजिट पर 750 रु का चेक दिया जा रहा है। अब तक लगभग 1500 लोग को वैक्सीन के ट्रायल के लिए वॉलेंटियर के रूप में सामने आ चुके हैं।

अजीबो-गरीब मामला : लड़की की मांग में सिंदूर भरने के बाद साली को लेकर भाग गया दूल्हा

राजधानी में लगभग 2000 लोगों को वैक्सीन लगना है। बता दें कि इस को-वैक्सीन के पहले फेस के ट्रायल के नतीजे बेहद पॉजिटिव आए हैं। पहले चरण के क्लीनिकल परीक्षण के अंतरिम नतीजों से पता चला है कि इस को-वैक्सीन का सभी आयु वर्ग के समूहों पर कोई गंभीर प्रभाव देखने को नहीं मिला है। इस टीके ने वॉलेंटियर के शरीर में एंटीबॉडी तैयार की है।

Powered by Blogger.