MP : तेंदुए की खाल के दोनों तस्करों की रिमांड खत्म, कोर्ट ने भेजा जेल

इंदौर। तेंदुए की खाल सहित पकड़ाए दोनों तस्करों की शनिवार को रिमांड पूरी हो गई। स्टेट टाइगर स्ट्राइक फोर्स ने तस्करों को कोर्ट में पेश किया। जहां से इन्हें जेल भेज दिया, जबकि तस्करों के मालिक को अगले सप्ताह टीम ने पूछताछ के लिए बुलाया है। फिलहाल नोटिस उसके घर पर चस्पा कर दिया है। तेंदुए की खाल की तस्करी को लेकर एसटीएसएफ ने बुधवार को कार्रवाई की, जिसमें संतोष और श्रीराम तंवर को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में करीब 50 लाख में खाल का सौदा तय हुआ। ये दोनों तस्कर बड़वाह में कमल दरबार के यहां मजूदरी करते थे, जिन्होंने दोनों को खाल एक व्यक्ति तक पहुंचने की जिम्मेदारी दी। यहां तक उसे पैसों का बैग भी लाने को कहा।

महिला आरक्षक के साथ संदिग्ध अवस्था में पकड़ाए TI, पत्नी और परिजनों ने जमकर धोया, SP ने दोनों को किया निलंबित

दो दिनों तक तस्करों को रिमांड पर रखा। शुक्रवार को इन्हें लेकर टीम बड़वाह पहुंची। सूत्रों के मुताबिक दोनों तस्कर दरबार के यहां ट्रैक्टर चलते है। बताया जाता है कि कई महत्वपूर्ण जानकारी टीम को हाथ ली है, जिसमें दरबार को शिकार का शौक होना सामने आया है। शनिवार को दोनों तस्करों को दोबारा कोर्ट में पेश किया। टीम ने रिमांड बढ़ाने की अपील नहीं की थी। इसके चलते कोर्ट ने तस्करों को जेल भेज दिया है। सूत्रों के मुताबिक तस्करों ने अभी तक केवल दरबार का नाम बताया है। एसटीएसएफ ने पूछताछ के लिए दरबार को बुलाया है।

आचार संहिता लगने से पहले सर्जरी की तैयारी, बदले सकते हैं, सीधी,शहडोल,छतरपुर ,सीहोर समेत इन 8 जिलों के कलेक्टर

शुक्रवार को टीम दरबार को लेने पहुंची थी, लेकन वह घर पर मौजूद नहीं था। इसके चलते नोटिस घर पर चस्पा कर दिया है। 16 दिसंबर तक दरबार को टीम के सामने अपने बयान दर्ज करवाना है। एसटीएसएफ के स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक घटना में बड़े गिरोह की सक्रियता सामने आई है।

Powered by Blogger.