MP : आज मकर संक्राति : सुबह से ही श्रृद्धालुओं की उमड़ी भीड़ : इस नदी के दर्शन मात्र से मिलता है पुण्य : पढ़िए

जबलपुर । कोरोना वैक्सीन की खुशियों के बीच पूरे देश में आज मकर-संक्रांति का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है, देश में मनाए जाने वाले सभी धार्मिक पर्वों में मकर संक्रांति एक मात्र ऐसा पर्व है, जो चन्द्रमा की चाल पर नहीं बल्कि सूर्य के उत्तरायण होने पर मनाई जाती है और इसलिए मकर संक्रांति का महत्व ज्यादा बढ़ जाता है। सूर्य के मकर राशि में प्रवेश किए जाने पर भारत वर्ष में मकर संक्रांति के रूप में ये पर्व मनाया जा रहा है।

मध्यप्रदेश के किसानों को सरकार ने दी कुछ हद तक राहत : अब लघु-सीमांत किसानों का भी कर्ज होगा माफ : रुकेगी वसूली

जबलपुर में भी आस्था के केन्द्र ग्वारीघाट-तिलवाराघाट, जिलहरीघाट और भेड़ाघाट के नर्मदा तट पर सुबह से ही श्रृद्धालुओं की भारी भीड़ जमा होना शुरु हो गई है,नर्मदा घाट पर लोग अपने परिवार के साथ पंहुचे और स्नान किया।

दो करोड़ की सरकारी जमीन पर एक और भू-माफिया के आलीशान मकान में चला प्रशासन का बुलडोजर

इस दिन दान का विशेष महत्व है, इसी कारण श्रृद्धालुओं ने स्नान के साथ तिलगुड़ और खिचड़ी का दान कर पूजन अर्चन किया, कहा जाता है कि जो फल गंगा नदी में नहाने के बाद मिलता उससे कहीं ज्यादा पुण्य मां नर्मदा के मात्र दर्शन करने से ही मिल जाता है। यही वजह है कि सूर्य के धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश के मौके पर लोग मां नर्मदा में आस्था की डुबकी लगाने पहुंच रहे हैं,कोरोना संक्रमण को देखते हुए मकर संक्रांति पर उमड़ने वाली भीड़ को लेकर जबलपुर पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। नावों के संचालन पर दो दिनों के लिए रोक लगाई गई है, इसके साथ ही नर्मदा नदी में होमगार्ड के जवानो को तैनात किया गया है।

Powered by Blogger.