SINGRUALI : कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर जिले में क्या है तैयारी, कब, कहां और कैसे लगेगा वैक्सीन : जानिए पूरी जानकारी

सिंगरौली. ऊर्जाधानी में लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया शुरू होने का बेसब्री से इंतजार है। जिले में प्रथम चरण पर 5600 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को चिह्नित किया गया है। जिन्हें यह वैक्सीन लगाया जाएगा। इसके लिए जिला अस्पताल ट्रामा सेंटर सहित तीन केंद्रों पर शुक्रवार को ड्राय रन आयोजित हुआ है। कोरोना वैक्सीनेशन से पहले शुक्रवार को जिले में एक साथ तीन केंद्र जिला अस्पताल, देवसर व चितरंगी में टीकाकरण का ड्राय रन हुआ।

कांग्रेस नेता पर 15 लोगों ने किया हमला , गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती : चार आरोप‍ित ग‍िरफ्तार

कोरोना टीकाकरण को लेकर जिले के सभी ब्लाकों में तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। उससे पहले वैक्सीनेशन का ड्राय रन किया गया। इस ड्राय रन के तहत इस बात की तैयारी की जा रही है कि लोगों को कैसे कोरोना वैक्सीन लगानी है और उसकी पूरी प्रक्रिया क्या है। पहले चरण में चिह्नित किए गए 4541 कर्मियों में स्वास्थ्य विभाग, आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता सहित एनसीएल व एनटीपीसी अस्पताल के 1100 स्वास्थ्य कार्यकर्ता शामिल किए गए हैं।

ऐसे होगी पूरी प्रक्रिया

परिसर में प्रवेश से पहले वैक्सीन लगाने वालों के नामों की पुष्टि की जाएगी और फिर पंजीयन होगा। इसके बाद वेटिंग हाल में एक-एक कर बैठाया जाएगा। कंप्यूटर कक्ष पर इन लोगों के नामों का सत्यापन होगा। वैक्सीन लगाने के लिए टीकाकरण केंद्र के अंदर बारी-बारी से प्रवेश दिया जाएगा। वैक्सीन लगाने के बाद आब्जर्वर कक्ष में आधा घंटा तक बैठाया जाएगा। ताकि किसी तरह की रिएक्शन या परेशानी होने पर उन्हें तुरंत उपचार के लिए बनाए गए बिस्तर हाल पर ले जाया जा सके।

जिले में 25 कोल्ड चेन

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक जिले में 25 कोल्ड चेन बनाए गए हैं। जिसमें जिला अस्पताल में दो सहित स्वास्थ्य केंद्र खुटार, माड़ा, मोरवा, सरई, निवास, देवसर, बरगवां, चितरंगी, बगैया, बैरदह, लमसरई एवं जिले में अन्य स्थानों पर कोल्ड चेन बनाए गए हैं। यहां लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा। एक केंद्र पर सुरक्षाकर्मी सहित चार लोगों की टीम मौजूद रहेगी। जिसका रजिस्ट्रेशन पहले हो जाएगा। उन्हीं को कोविड का टीका स्वास्थ्य कर्मियों की ओर से लगाया जाएगा।

तीन चरण में लगेगा कोविड-19 का टीका

प्रथम चरण में स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता।

द्वितीय चरण में पुलिस के जवान, नगर निगम व राजस्व अमला।

तृतीय चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र व बीमार लोगों को टीका लगेगा।

जिला टीकाकरण अधिकारी का तर्क

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. राहुल सिंह ने बताया कि जिन लोगों का आधार कार्ड में दिया गया मोबाइल नंबर बंद हो गया है। ऐसे लोग तत्काल उस मोबाइल नंबर को चालू कराएं। अन्यथा कोरोना वैक्सीन का टीका नहीं लगावा सकते हैं क्योंकि ओटीपी आधार से लिंक वाले मोबाइल नंबर पर जाएगा।

वैक्सीन मिलने की अभी जानकारी

शुक्रवार को कोरोना वैक्सीनेशन का ड्राय रन सफलता पूर्वक पूरा कर लिया गया। अधिकारी इस बात को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि वैक्सीन मिलने पर वैक्सीनेशन का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। हालांकि स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक अभी उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि जिले को कब तक वैक्सीन मिल पाएगी। फिलहाल अब पूरे महकमे को वैक्सीन मिलने का इंतजार है। ताकि सभी कोरोना से सुरक्षा हो सकें।

Powered by Blogger.