MP : जिले के चार प्रमुख चौराहों पर वाहनों की सघन चेकिंग से मचा हड़कंप, अतिक्रमण पर चली जेसीबी




छतरपुर : शहर में शनिवार को मजिस्ट्रेट चेकिंग चलाई गई। जिला मुख्यालय के चार प्रमुख चौराहों पर सघन चेकिंग से न सिर्फ दोपहिया वाहन चालकों में हड़कंप रहा बल्कि यात्री बसों के चालक भी वाहनों को छिपाते नजर आए। महोबा रोड पर हुई सघन चेकिंग के दौरान कई यात्री बसों ने दूर से ही सवारियां उतारकर बसों को वापस ले लिया। इधर छत्रसाल चौक पर हुए बेजा अतिक्रमण को जेसीबी मशीन से हटा दिया गया।


मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के निर्देशन एवं जिला सत्र न्यायाधीश अरुण कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में छतरपुर शहर के समस्त चारों चौराहों पर मजिस्ट्रेट वाहन चेकिंग की गई। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं अन्य साथी मजिस्ट्रेट ने यातायात नियमों का पालन न कर वाहन संचालन करने वाले चालकों के खिलाफ कार्रवाई की।

रेलवे स्टेशन के सामने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट विपिन सिंह भदौरिया, मजिस्ट्रेट प्राची चौधरी एवं बृजेश चंसौरिया बस, ट्रक, कार, ट्रेक्टर एवं दोपहिया वाहनों की चेकिंग की। इस दौरान मोटर दुर्घटना अधिनियम के अंतर्गत वाहनों के फिटनेस, बीमा, रजिस्ट्रेशन, प्रदूषण प्रमाण पत्र, काली फ़िल्म, बसों के टिकट आदि चेक किए गए। कार्रवाई के दौरान जनप्रतिनिधियों के वाहनों को भी नहीं बख्शा गया। प्राची यात्री बस के ड्राइवर एवं कंडक्टर के ड्रेस में न होने पर 5500 रुपये का चालान काटा गया। इस तरह 53 प्रकरण बनाकर 56050 रुपये का चालान किया गया। स्थानीय बिजावर नाका पर मजिस्ट्रेट चैतन्य अनुभव चौबे, देवेश मिश्रा, ऋषि तिवारी ने चेकिंग के दौरान 36 प्रकरण में 49000 रुपये की चालानी कार्यवाही कर जुर्माना अधिरोपित किया। नौगांव रोड पर स्थित ट्रांसपोर्ट नगर के आगे मजिस्ट्रेट सोनाली शर्मा एवं राज पांडे द्वारा 65 प्रकरण में 41600 रुपये की चालानी कार्यवाही कर जुर्माना अधिरोपित किया गया।


एक तरफ मोबाइल कोर्ट चली, तो दूसरी तरफ हटा अतिक्रमणः

शहर के सबसे व्यस्ततम स्थानीय छत्रसाल चौक से अदालत वाले रोड पर दुकानों के बाहर फैले अतिक्रमण को हटाया गया। न्यायाधीशों ने कुछ हाथ ठेलों पर लगी दुकानों को हटवाया तो वहीं नगरपालिका सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया ने कलेक्टर शीलेंद्र सिंह के निर्देश पर दुकानों के आगे लगे टीन शेडों को जेसीबी मशीन से हटवाने की कार्रवाई की। न्यायालय की ओर जाने वाले मार्ग पर दुकानों के आगे बेहताशा अतिक्रमण रहने की वजह से जाम की स्थिति बनी रहती थी। यहां से गुजरने वाले लोगों को परेशानी के साथ साथ यातायात भी प्रभावित हो रहा था। नगरपालिका सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया ने बताया कि छत्रसाल चौराहा से बिजावर नाके तक अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई है। सीएमओ श्री भदौरिया ने कहा है कि दुकानों के आगे दुकानदार अपना सामान सजाकर जगह घेर रहे हैं। ऐसे दुकानदारों को एनाउंस कराकर चेताया जाएगा। यदि दुकानदार अपनी सीमा के अंदर सामान नहीं रखते हैं तो उनके अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई की जाएगी।
Powered by Blogger.