MLA रामबाई बोली- नहीं लगाऊंगी मास्क, जुर्माना होगा मैं दे दूंगी, इधर मंत्री ने कहा- हनुमान चालीसा का पाठ करती हूं, यह कोरोना से बचाव है..


भोपाल। मध्यप्रदेश के विधानसभा के बजट सत्र के आज दूसरे दिन कई मंत्री और विधायक बिना मास्क के नजर आए हैं। बिना मास्क के ही विधानसभा पहुंचे कई विधायकों और मंत्रियो से जब सवाल किया था तो बहाने बाजी करते हुए नजर आए। बता दें कि विधानसभा की कार्यवाही सुबह 11 बजे शुरु हुई। दिवंगत पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि दी गई। ​इसके बाद सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित हो गई।

मास्क नहीं पहनने को लेकर जब विधायक रामबाई से सवाल किया तो बेकाब अंदाज में कहा कि जिसके पास हिम्मत होती है वहीं कुछ कर सकता है। मुझे मास्क की बिल्कुल जरूरत नहीं है। मुझे कुछ भी नहीं है इसलिए मास्क नहीं लगाना। मास्क का जो जुर्माना होगा वह मैं दे दूंगी। लेकिन मास्क नहीं लगाऊंगी, मुझे घबराहट होती है।

इसी क्रम में जब मंत्री उषा ठाकुर से मास्क नहीं पहनने को लेकर सवाल पूछा तो मंत्री ने जवाब में कहा कि मैं वैदिक जीवन और योग पद्धति का अनुसरण करती हूं। प्रतिदिन शंख बजाती हूं काढ़ा पीती हूं, गाय के गोबर के कण्डे पर हवन करती हूं, हनुमान चालीसा का पाठ करती हूं, यह मेरी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। यह मेरा कोरोना से बचाव है। गमछा गले में रखती हूं अगर कोई पास आये तो मुंह पर रख लेती हूं। इंदौर में कोरोना के बढ़ते मामलों पर उषा ठाकुर ने कहा कि लोग बेवजह सड़कों पर आए तभी मामले बढ़े। 


बता दें कि मंत्री उषा ठाकुर, हरदीप सिंह डंग, अजय विश्नोई, मंत्री मोहन यादव, विधायक रविंद्र सिंह भिडोसा बिना मास्क के सदन पहुंचे। ज​बकि मुख्यमंत्री शिवराज ने मास्क को लेकर कड़े निर्देश दिए हैं। बावजूद सीएम के निर्देश का असर नहीं दिखा। मास्क नहीं लगाए मंत्री और विधायक इस पर सफाई देते हुए नजर आए।
Powered by Blogger.