MP : बड़ा खुलासा : 20 हजार की सैलरी लेने वाला प्रबधंक निकला करोड़पति, उज्जैन लोकायुक्त टीम ने की छापेमार कार्यवाही

Telegram

मंदसौर। जिले में आज शनिवार सुबह छह बजे लोकायुक्त उज्जैन की टीम ने जिले की धुंधड़का सहकारी सोसायटी के प्रबंधक नंदकिशोर धाकड़ के घर ग्राम लादुसा में छापामार कार्रवाई की गई। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत पर की गई कार्रवाई में घर की स्थिति देखकर टीम की आंखें फटी रह गई।

अब मोबाइल एप पर मिलेगा ट्रेन का 'जनरल टिकट' : मार्च के पहले हफ्ते तक शुरुआत

चौंकाने वाली बात यह है कि महज 20 हजार रुपए के मासिक वेतन लेने वाले प्रबधंक के पास अलिशान मकान, जेवरात ओर वाहन मिले है। प्रबंधक के पास इतनी संपत्ति कहां से आई इसकी जांच जा रही है। दोपहर तक हुई जांच में एक आलीशान मकान, तीन लाख रुपए नगदी के साथ, 300 ग्राम सोने और डेढ़ किलो चांदी की ज्वेलरी, कार बाइक के साथ कृषि भूमि और अन्य जगहों पर भूखंड के दस्तावेज मिले हैं।

कोरोना के बढ़ते मामलों और लॉकडाउन को लेकर CM शिवराज का संदेश

शनिवार सुबह लोकायुक्त संगठन उज्जैन डीएसपी बसंत श्रीवास्तव के नेतृत्व में पहुंची 10 सदस्यीय टीम ने ग्राम लदूसा में प्रबंधक नंदकिशोर धाकड़ के घर में छापामार कारवाई शुरू की। 5 वाहनों में सवार होकर आई करीब 20 लोगों की लोकायुक्त टीम ने पूरे घर की तलाशी ली।

तीन महिला सहित चार पूर्व सरपंचों के खिलाफ जारी हुआ वारंट : जानिए क्या है मामला

अभी ज्वेलरी, नकदी, जमीन से जुड़े कागजात व अन्य सामान एक जगह एकत्र कर गिनती की जा रही है, जो दोपहर तक जारी रहेगी। जिले के ग्राम धुंधड़का की सोसायटी लगातार भ्रष्टाचार को लेकर सुर्खियों में रहती है। यहां खाद घोटाला, कृषि ऋण घोटाले सहित कई मामले उजागर हो चुके हैं। समिति प्रबंधक नंदकिशोर धाकड़ इस मामले में निलंबित भी हो चुका है। लेकिन राजनीतिक रसूख के चलते हमेशा क्लीनचिट मिलती रही है। लेकिन इस बार बैंक प्रबंधक नंदकिशोर लोकायुक्त के हत्थे चढ़ गया।

Powered by Blogger.