केंद्र सरकार ने दिल्ली, महाराष्ट्र और केरल की मांग पर वैक्सीन निर्माता कंपनियों को दिया 12 करोड़ वैक्सीन का ऑर्डर

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

  

नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों से भारत में कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से जारी है। मार्च में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार भारी बढ़ोतरी के बाद दिल्ली, महाराष्ट्र और केरल के नेताओं ने केंद्र सरकार से लोगों को और अधिक खुराक देने की अपील की है। इसके बाद केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन के 12 करोड़ खुराक का आदेश दिया है।

2020 से सबक लें और नियमों का पालन शुरू करें Mask लगाएं नहीं तो लौट आएंगे लॉकडाउन के खौफनाक दिन

खुराक की आपूर्ति बढ़ाने का आदेश

केंद्र सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ( SII ) और भारत बायोटेक को खुराक की आपूर्ति तत्काल बढ़ाने का आदेश दिया है। केंद्र सरकार का ये फैसला ऐसे समय में आया है जब देश में कोरोना वायरस एक बार फिर पैर पसार रहा है।

चाणक्य नीति : ऐसे लोगों से हमेशा रहें दूर, नहीं तो धन और जीवन हो सकता है तबाह!

बता दें कि 1 मार्च से देशभर में आम लोगों को भी टीका लगाने का अभियान जारी है। इसके अंदर 60 साल से ऊपर के सभी लोग और 45 साल से ऊपर के वे लोग हैं जो गंभीर बिमारियों से पीड़ित हैं केरोना वैक्सीन लगवा सकते हैं।

लड़कियों के कपड़े में हाथ डालकर लेता था सब्र का इम्तिहान, नर्सिंग छात्राओं ने सुनाया दर्द : फिर...

अभी तक लग चुकी हैं कोरोना की 4.36 खुराक

एक दिन पहले तक भारत में दोनों टीकों की 4.36 करोड़ खुराक लगाई जा चुकी हैं। भारत का लक्ष्य जुलाई के अंत तक 30 करोड़ लोगों टीका लगाने की है। इनमें स्वास्थ्य कार्यकर्ता, फ्रंटलाइन वर्कर्स और उनकी उम्र या कोमोरिड स्थितियों के कारण सबसे अधिक जोखिम वाले लोग शामिल हैं। लेकिन अब विशेषज्ञों का मानना है कि मामलों की इस नई लहर का सामना करने के लिए जितना संभव हो सके अब लोगों को खुराक लेने की अनुमति दी जानी चाहिए।

इस राज्य में कोरोना के चलते 10वीं-12वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द : जारी निर्देश

Powered by Blogger.