UP : करंट लगने के बाद काटने पड़े थे दोनों हाथ, प्रगति आज चलाती है मोबाइल, लैपटॉप

Telegram

आज देश-दुनिया में महिला दिवस मनाया जा रहा है। नारी के सम्मान की भारतीय संस्कृति की परंपरा को पूरी दुनिया में आगे बढ़ाया जा रहा है। महिलाओं का सम्मान किया जा रहा है और समाज को आगे बढ़ाने में उनके योगदान की सराहना की जा रही है। इस बीच, महिलाओं के संघर्ष से जुड़ी प्रेरणास्पद कहानियां भी सामने आ रही हैं। ऐसी ही कहानी है उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद की प्रगति की। 2010 में करंट लगने के कारण प्रगति के हाथ बुरी तरह झुलस गए थे। डॉक्टरों के पास हाथ काटने के अलावा कोई चारा नहीं था। अच्छी बात यह है कि इस घटनाक्रम के बाद प्रगति ने हार नहीं मानी। आज वह न केवल अपने हाथों से लिख पाती है, बल्कि मोबाइल और लैपटॉप भी बड़ी आसानी चला पाती है। देखिए तस्वीरें

बड़ी खबर : अब कार में जरूरी होगा डबल एयरबैग, 1 अप्रैल से लागू हो रहा है नया नियम : पढ़ ले ये खबर

नारी शक्ति के हवाले बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस: वीरांगना लक्ष्मीबाई की जन्म स्थली काशी (वाराणसी) से उनके शहीद स्थल ग्वालियर तक चलने वाली ट्रेन बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस की कमान आज महिला शक्ति के हाथ रही। चालक, टीटीई, गार्ड के साथ ही यात्रियों की सुरक्षा के लिए तैनात आरपीएफ कर्मी के रूप में भी महिला टुकड़ी इस ट्रेन में चल रही थीं। ये महिलायें झांसी स्टेशन पर ट्रेन में सवार हुईं और इसे ग्वालियर तक ले गईं। यही महिलाकर्मी इस ट्रेन को ग्वालियर से झांसी लेकर आएंगी। वापसी में यह ट्रेन रात 8:55 पर ग्वालियर से चलती है और झाँसी रात 10:40 बजे आती है।

वाहन मालिकों को परिवहन ​अधिकारी का निर्देश, गाड़ियों में लगवाएं FASTAG

किसान आंदोलन की कमान आज महिलाओं के हाथ: 100 से अधिक समय से जारी किसान आंदोलन की कमान आज महिलाओं को सौंपी गई है। इसमें हिस्सा लेने के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं दिल्ली-हरियाणा सीमा पर टिकरी पहुंच चुकी हैं। एक महिला प्रदर्शनकारी ने कहा, हम केंद्र सरकार से तीन काले कानूनों को वापस लेने का आग्रह करते हैं। देखिए फोटो

NH-92 पर दर्दनाक हादसा : तेज रफ्तार ट्रक ने कार को मारी टक्कर; पति, पत्नी और बेटे समेत 4 की मौत : 7 घायल

पूरे विमान की कमान महिलाओं के हाथ: एलायंस एयर के एक विशेष विमान ने आज नई दिल्ली से बरेली के लिए उड़ान भरी। यह दिल्ली-मेरठ सेवा की पहली उड़ान थी, जिसकी पूरी कमान महिलाओं के हाथ सौंपी गई। एलायंस एयर की सीईओ हरप्रीत सिंह के मुताबिक, इस फ्लाइट में महिला पायलट के साथ ही केबिन क्रू, एटीसी कंट्रोलर, इंजीनियर और सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी महिलाओं को दी गई है।

हैरतअंगेज सत्य घटना : पोस्टमॉर्टम शुरू होते ही खड़े हो गए 'मुर्दे' के रोंगटे, फिर जो हुआ जानकर हैरान जाएंगे

Powered by Blogger.