MP : स्वास्थ विभाग के प्रमुख सचिव का बयान : कोरोना से मौतों का बढ़ा आकड़ा; 90 फीसदी मरीज लगवा चुके थे रेमडेसिविर इंजेक्शन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

भोपाल, मध्यप्रदेश। देश में कोरोना की दूसरी लहर में मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है। इस बीच संक्रमित मरीजों के लिए संजीवनी मानी जा रही रेमडेसिविर इंजेक्शन के इस्तेमाल को लेकर बड़ा बयान दिया है।

मछली पकड़ने गए तीन बच्चों की तालाब में डूबने के कारण मौत : परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

मध्यप्रदेश स्वास्थ विभाग के प्रमुख सचिव मोहम्मद सुलेमान ने मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि कोरोना से मरने वाले 90 फीसदी वो मरीज़ है जो रेमडेसिविर लगवा चुके थे। स्वास्थ्य विभाग की प्रेस कॉफ्रेंस में मंत्री विश्वास सारंग भी मौजूद रहे। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना से मौत होने वाले आंकड़े भी पेश किए।

अगले 24 घंटे में कई जगह गरज चमक के साथ तेज हवाएं और बारिश की संभावना : 9 जिलों में येलो अलर्ट

मंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार हर चुनौती का सामना करने तैयार है। मंत्री ने बताया कि जिलों में कोविड सेंटर्स के लिए 104 करोड़ रु की मंजूरी दी है। हर जिले में 2 करोड़ रुपये और कोविड के इंतज़ाम किए जाएंगे।

दमोह को छोड़कर सभी बड़े-छोटे शहरों में शनिवार-रविवार लॉकडाउन; यहां विधानसभा उपचुनाव के लिए 17 अप्रैल को मतदान

इधर इजेक्शन के लिए हाहाकार

संकट के दौर में मध्यप्रदेश समेत अन्य राज्यों में रेमडेसिविर इंजेक्शन के हाहाकार मचा हुआ है। इंदौर के दवा बाजार में हर दिन लोगों की लंबी लाइन लग रही है। शुक्रवार को इंजेक्शन के लिए जमकर हंगामा हुआ। वहीं लोगों की परेशानियों को देखते हुए सीएम शिवराज ने मुफ्त में इंजेक्शन देने का ऐलान किया।

Powered by Blogger.