Antigen Test Kit Fail: जांच मेें निगेटिव, मौत के बाद आ रही रिपोर्ट पाजिटिव

   

रायपुर। कोरोना जांच के लिए छत्तीसगढ़ पहुंची एंटीजन टेस्ट किट की रिपोर्ट सही नहीं आ रही है। रिपोर्ट मेें संक्रमित व्यक्ति भी सामान्य पाया जा रहा है, जबकि मरीज में लक्षण पूरे नजर आ रहे हैं। हाल यह है कि राजधानी रायपुर में कई ऐसे मामले सामने आए, जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद संक्रमित घर में रुके रहे और उनकी मौत हो गई।

अब जिले के कई कोविड जांच सेंटरों के प्रभारियों ने सीएमएचओ को लिखित में इसकी जानकारी दी है और उनसे किट वापस लेकर उच्च गुणवत्ता की टेस्ट किट उपलब्ध कराने का आग्रह किया है। एंटीजन टेस्ट किट के स्तरहीन होने की सीएमएचओ मीरा बघेल ने पुष्टि की है। बघेल ने कहा कि किट की पिछली खेप में क्वालिटी खराब थी। अब दस हजार किट नई आई है, जिसकी जांच में अब तक शिकायत नहीं मिली है।

28 अप्रैल से मुंबई, हावड़ा, गुवाहाटी और गोरखपुर के बीच दौड़ेगी 3 समर स्पेशल ट्रेन ; यात्रियों को मिलेगा कंफर्म टिकट : ये होगा रूट

शिकायती पत्र में साफ तौर पर उल्लेखित किया है कि मौजूदा एंटीजन टेस्ट किट से पाजिटिव मरीजों की पहचान नहीं हो पा रही है। इससे तकनीकी सहायक और मरीज दोनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सैंपल लेने के बाद जांच में कंट्रोल और टेस्ट की लाइन ही नहीं आ रही है। इसकी वजह से रिपोर्ट त्रुटिपूर्ण हो रही है। प्रदेश के कई जिलों में एंटीजन टेस्ट किट से जांच हो रही है।

15 दिन के संघर्ष में वापस आई खुशियां : 70 वर्षीय मां को फोन पर हिम्मत देकर मौत के मुंह से निकाल लाईं बेटियां

इन जिलों में आरटीपीसीआर टेस्ट की सुविधा नहीं है। यहां से आरटीपीसीआर का सैंपल लेकर पड़ोसी जिलों में भेजा जाता है। स्वास्थ्य विभाग के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो कुछ दिन पहले ही छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कार्पोरेशन (सीजीएमएससी) के माध्यम से 90 हजार टेस्ट किट की खरीदी की थी। ट्रिवीट्रान हेल्थ केयर कंपनी ने टेस्ट किट की सप्लाई की थी। कंपनी को एंटीजन टेस्ट किट की गुणवत्ता में कमी के कारण नोटिस भी दिया गया है।

Powered by Blogger.