REWA : कच्ची शराब व महुआ लाहन के ठिकानों में आबकारी विभाग की छापामार कार्यवाही, 100 लीटर कच्ची मदिरा जब्त

लॉकडाउन के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में तैयार हो रही कच्ची शराब व महुआ लाहन के ठिकानों में आबकारी विभाग ने छापामार कार्रवाई की है। बताया गया कि एक दर्जन दुकानों व घरों में दबिश देकर 100 लीटर से ज्यादा कच्ची शराब जब्त की गई है। वहीं विभिन्न ठीहों में पहुंचकर आबकारी ने 2 हजार किलो लीटर से ज्यादा महुआ लाहन नष्ट कराया गया है।

बड़ी राहत : लॉकडाउन से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू/ शनिवार को जारी हेल्थ बुलेटिन में मिले 97 पॉजिटिव केस

अचानक हुई कार्रवाई से पहाड़ के गांवों में हड़कंप मच गया है। ऐसे में नशे के सौदागर अपना-अपना ठीहा छोड़कर अंडर ग्राउंड हो गए है। स्थानीय पुलिस का दावा है कि बीते शुक्रवार की दोपहर इस कार्रवाई में आबकारी अमले के साथ सेकंड बटालियन ग्वालियर के जवान भी शामिल थे।


इन जगहों पर मिली कच्ची शराब

बता दें कि कई दिनों से आबकारी अमले को चाकघाट वृत के कुछ गावों में कच्ची शराब व शराब की भट्ठियों के चलने की सूचना मिल रही थी। जिस पर संयुक्त टीम बनाकर क्रमश: दबिश दी गई। सबसे पहले पटेहरा के सविता गुप्ता की दुकान से 30 लीटर कच्ची शराब, पूनम गुप्ता की दुकान से 15 लीटर कच्ची मदिरा जब्त की। इसके बाद गुढ़ पटैती में राजकली पटेलके घर से 12 प्लेन शराब, भुनगांव में विमला मांझी के घर से 150 किलो लाहन, सावित्री मांझी के घर से 10 कच्ची शराब, कुसमा देवी के मकान से 300 किलो हाहन और 10 लीटर कच्ची शराब, शिवकुमार मांझी के घर से 25 लीटर कच्ची मदिरा और 100 किलो लाहन जब्त की।

जवा क्षेत्र में भी दबिश

लगातार मिल रही सफलता के बाद आबकारी दल जवा की ओर पहुंचा। यहां गुडडी रजक के घर से 100 किलो महुआ लाहन, फूलमती मांझी के घर से 40 किलो महुआ लाहन, बरौली गांव में कुंवर वर्मा के घर से 40 किलो लाहन, लाही में इन्द्रजीत मांझी के घर से 40 किलो लाहन, रमेश मांझी के घर से 100 किलो लाहन जब्त किया गया। इसके बाद भुनगांव में टमस नदी के ​किनारे ​दबिश देने पर कच्ची शराब बना रहे लोग भट्ठियां छोड़कर नांव से नदी के दूसरे तरफ भाग गए। इस कार्रवाई में एडीईओ लोकेश सिंह ठाकुर, उप निरीक्षक अभिमन्यू पाठक, शबनम बेगम, आशीष शुक्ला सहित सेकंड बटालियन के जवान मौजूद रहे।

फोटो सेशन में नहीं दिखा कई लोगों के चेहरे पर मास्क

आबकारी अधिकारियों ने कार्रवाई के बाद फोटो सेशन कराता तो कई अधिकारी और कर्मचारियों के चेहरे पर मास्क नहीं दिखे। ऐसे में ये फोटो सोशल मीडिया में वायरल कर रीवा जिले के जागरूक वर्ग एसपी राकेश सिंह से सवाल जवाब कर रहे है। सोशल मीडिया यूजर ने कहा है कि आम जनता को मास्क न लगाने पर लात घूसे मारने वाली पुलिस आबकारी विभाग का भी क्या जुर्माना करेगी। अथवा जिले में दोहरा रवैया चलता रहेगा।

Powered by Blogger.