MP : गाइडलाइन जारी / एक जून से पुनः जीवन यापन की गतिविधियों को पटरी पर लाने शासन ने दी अनुमति : क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप तय करेंगे क्या खुलेगा और क्या नहीं


भोपाल। मध्य प्रदेश में जनता कर्फ्यू की समाप्ति और जनजीवन सामान्य करने के संबंध में सीएम शिवराज सिंह चौहान प्रदेशभर के सभी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स को संबोधित करते हुए कहा कि आप सब की मेहतन से कोरोना संक्रमण दर घट रही है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में सिर्फ इंदौर, भोपाल और सागर में संक्रमण दर 5 प्रतिशत से ज्यादा है। मुरैना में भी कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। 

कई जिलों में कोरोना के केस 10 से भी कम है। प्रदेश सरकार ने अनलाक के लिए गाइडलाइन जारी की है, जिसके आधार पर जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप रविवार को बैठक कर फैसला लेंगे की उनके यहां क्या खुलेगा और क्या नहीं। सीएम ने यह भी कहा कि जिन जिलों में संक्रमण दर 5 प्रतिशत से कम और जिनमें 5 प्रतिशत से ज्यादा है उनके लिए अलग-अलग गाइड लाइन जारी की गई है। उधर 1 जून से जहां जनता कर्फ्यू खुलेगा वहां शनिवार से सोमवार तक लाकडाउन लागू रहेगा।

15 जून के बाद UNLOCK की नई गाइडलाइन, 40 दिन से ज्यादा समय से बंद भोपाल और इंदौर राहत देने की आशंका : 11 से 5 बजे तक बाजार खुलने की सिफारिश

इनकी इजाजत अभी नहीं

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कुछ चीजें हैं जो नहीं खुलेंगी, राजनीतिक आयोजन, सांस्कृति आयोजन, मेला, उत्सव, खेल, मनोरंजन स्थल, मॉल, स्कूल, कालेज, प्रशिक्षण संस्थान, पिकनिक स्थल, आडिटोरियम खोलने की इजाजत अभी समय नहीं देता। विवाह में भी सीमित संख्या में लोग रहेंगे। अंतिम यात्रा में भी केवल 10 लोग ही शामिल हो सकते हैं। हम गाइडलाइन भेज रहे हैं, इसके हिसाब से क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी तय करें की क्या करना है। रेड, यलो, ग्रीन जोन बनेंगे, जहां 5 से ज्यादा संक्रमित वो रेड जोन में आएगा।

1 जून से खुलेंगी सैलून और किराने की दुकानें ; रेस्टारेंट, होटल और भीड़-भाड़ वाले सेक्टर रहेंगे बंद

मध्य प्रदेश में स्थिति तेजी से सुधर रही है

इसके पहले शनिवार सुबह सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जानकारी दी थी कि मध्य प्रदेश में कोविड संक्रमण लगातार नियंत्रित होता जा रहा है। रिकवरी रेट 95% है, जबकि पाजिटिविटी की दर 2.1% रह गई है। डिंडौरी की जनता को बधाई देता हूं कि वहां एक भी पाजिटिव प्रकरण नहीं आया है। मध्य प्रदेश में स्थिति तेजी से सुधर रही है, लेकिन मुरैना में कल 48 और आज 75 पाजिटिव केस आए हैं, यह चिंता की बात है। मैं मुरैना के भाइयों-बहनों से कहना चाहता हूं कि हमको स्थिति को संभालने के लिए गंभीरता से कोविड गाइडलाइन का पालन करना पड़ेगा, अन्यथा संकट बढ़ सकता है।

Powered by Blogger.