SATNA : सिटी कोतवाली थाने में ऑन ड्यूटी पदस्थ एक आरक्षक का दिल का दौरा पड़ने से निधन

शहर के सिटी कोतवाली थाने में पदस्थ एक आरक्षक का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। शनिवार की सुबह करीब 11 से 12 बजे के बीच वे थाने में ड्यूटी कर रहे थे। तभी उनको हार्ट अटैक आया तो वे गिर पड़े। आनन-फानन में परिजनों को सूचना दी गई। इधर थाने के दूसरे सहयोगी पुलिसक​र्मी जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां तुंरत इलाज शुरू किया गया। वहीं कुछ देर बाद उनकी पत्नी और बेटा भी अस्पताल पहुंच गए। ​इसके बाद ईसीजी जांच कराई गई। लेकिन कुछ देर बाद उनकी सांसें थम गई।

कहने को 5 मेडिकल कॉलेज में फ्री इलाज का इंतजाम, हकीकत तो यह है कि इंजेक्शन तक नहीं है

ऑन ड्यूटी आरक्षक के निधन की सूचना के बाद एएसपी सुरेन्द्र कुमार जैन जिला अस्पताल पहुंचकर परिजनों से मुलाकात कर शोक संवेदना व्यक्त की है। साथ ही डेड बॉडी को एंबुलेंस के माध्यम से गृह ग्राम नरसिंहपुर रवाना कर दिया गया है। वहीं परिजनों के लिए एक अगल से चार पहिया वाहन एक लाख रुपए की तत्काल सहायता राशि देकर दोनों वाहनों को रवाना कर दिया गया।

सरकार दे रही है जबरदस्त कमाई का मौका : अगर आपकी नौकरी चली गई है या फिर कारोबार में नुकसान हुआ है तो घबराये नहीं , अब LPG GAS सिलेंडर के जरिए...

एएसपी सुरेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि 54 साल के आरक्षक सुरेश सोनी बैच नंबर 583 सिटी कोतवाली थाने में शनिवार की सुबह करीब 9 बजे पहुंचकर ड्यूटी कर रहे थे, लेकिन दोपहर करीब 12 बजे थाने के अंदर ही हार्ट अटैक आ गया। जिससे वे चक्कर खाकर गिर गए। ऐसे में आसपास मौजूद पुलिस कर्मियों ने तुरंत थाने के वाहन में बैठाकर जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। वहीं परिजनों को भी पूरे घटनाक्रम से अवगत करा दिया गया। जैसे ही परिजन पहुंचे तो चिकित्सकों ने ईसीजी जांच आदि प्रारंभ की, लेकिन कुछ ही देर बाद उनकी सांसे थम गई।

AIIMS ने बताए तरीके : इस तरह ब्लैक फंगस की जल्द करें पहचान : पढ़िए गाइडलाइन में शामिल सभी निर्देश

एएसपी पहुंचे अस्पताल

हार्ट अटैक से निधन की जानकारी मिलते ही एएसपी सुरेन्द्र कुमार जैन जिला अस्पताल पहुंचकर मृतक पुलिस जवान के परिजनों से मुलाकात की। फिर चिकित्सकीय प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद मृतक आरक्षक के लिए एंबुलेंस व परिजनों के लिए एक अलग से वाहन कर गृह ग्राम नरसिंहपुर डेड बॉडी भेजवाई गई। वहीं क्रियाकर्म के लिए 1 लाख रुपए की सहायता राशि दी गई। साथ ही तेरवीं के बाद अनुकंपा नियुक्त और ईपीएफ ​आदि के क्लेंम की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

Powered by Blogger.