MP : देश में पहली बार 50 करोड़ की लागत से इंदौर शहर में बनेगा फिश एक्वेरियम : व्हेल, शार्क, ऑक्टोपस समेत 100 से ज्यादा मछलियों की होंगी प्रजातियां

देश में पहली बार 50 करोड़ की लागत से डेढ़ एकड़ में ऐसा फिश एक्वेरियम बनाया जाएगा, जहां शार्क से लेकर व्हेल, ऑक्टोपस, जापान की मछलियों के साथ-साथ 100 से ज्यादा प्रजातियों की डेढ़ से दो हजार मछलियां एक्वेरियम में रहेंगी। एक्वेरियम बनाने से पहले देश के चुनिंदा एक्सपर्ट की टीम यहां आएगी। तमाम इंतजाम से लेकर डिजाइन तक फाइनल करेगी। अब तक देश में ऐसा कोई जू नहीं है, जहां एक्वेरियम में शार्क और व्हेल रखी गई हों।

पड़ताल में आया कि इतनी भयावह स्थिति : MP में एक महीने में ही काबू में आ गई सेकेंड लहर; दोनाें लहर का सबक- टेस्ट घटाते ही घातक होगा कोरोना

जू के प्रभारी अधिकारी डॉक्टर उतम यादव ने बताया कि निगम बजट में प्राणी संग्रहालय में बनने वाले फिश एक्वेरियम के लिए 50 करोड़ की राशि मंजूरी हुई है। काम शुरू कराने की कवायद जल्द शुरू कराई जाएगी। यादव के मुताबिक इसके लिए तमाम एक्सपर्ट्स से राय ली जाएगी। एक पूरी पैनल रहेगी, जो कार्यों को लेकर दिशा-निर्देश देगी और डिजाइन फाइनल करेगी। आने वाले डेढ़ से दो माह के अंतराल में काम शुरू करने की तैयारी है। इसके लिए राष्ट्रीय स्तर की फर्म को काम सौंपे जाने की तैयारी है, जिसके लिए जल्द ही टेंडर जारी किए जाएंगे।

फिर आ सकता है बड़ा खतरा, पहली बार इंसान में मिला H10N3 वायरस का स्ट्रैन

45 दिन में जू में तैयार होगा समुद्री पानी

यादव के मुताबिक, इस एक्वेरियम में रखी जाने वाली सभी मछलियां समुद्री पानी में ही अपना जीवन यापन करती हैं। एक्वेरियम में एक्सपर्ट की मदद से समुद्र जैसा खारा पानी तैयार किया जाएगा। एक्वेरियम और उसके पानी के लिए कुछ अनोखे प्रबंध किए जाएंगे, ताकि मछलियों को वहां समुद्री एहसास हो सके। इसके लिए आधा शुद्ध पानी रहेगा और आधा समुद्री पानी मिलाया जाएगा। इसके लिए कुछ स्थानों पर पानी के टैंक बनाए जाएंगे।

Powered by Blogger.