REWA : एक और नई पहल : जिले में दो नए औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की प्रक्रिया शुरू : लघु एवं मध्यम उद्योगों की स्थापना के लिए कलेक्टर ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले में दो नए औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यहां औद्योगिक विकास निगम व लघु एवं मध्यम उद्योगों की स्थापना के लिए कलेक्टर ने राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा है। पहला प्रस्ताव त्योंथर तहसील में ग्राम घूमा कटरा तो दूसरा प्रस्ताव हनुमना तहसील के मदरावल गांव में औद्योगिक क्षेत्र स्थापित करने की तैयारी है।

टमस नदी में डूबे रिश्ते के चाचा-भतीजे : कलेक्टर ने मुलाकात कर हर सम्भव सहायता का दिया आस्वासन, जल स्तर बढ़ने से सुबह से रेस्क्यू ऑपरेशन में दिक्कतें : बचाव कार्य जारी

दावा है कि बड़े व छोटे उद्योगों के साथ-साथ खाद्य प्रसंस्करण की यूनिट स्थापित होगी। वहीं उद्योगों के क्लस्टर विकास की कार्यवाही भी रीवा जिले में की जा रही है। यह कार्यवाही भारत सरकार की सीडीपी योजना के तहत हो रही है।

रीवा संभाग में भारी बारिश की संभावना, अगले 24 घंटे में 13 जिलों में गरज-चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना

जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र के महाप्रबंधक यूबी तिवारी ने बताया कि रीवा जिले में औद्योगिक विकास की संभावनाओं को बल देने के लिए लैण्ड बैंक बनाया गया है। ऐसे में त्योंथर तहसील के घूमा कटरा गांव में नेशनल हाइवे से लगी 56.54 हेक्टेयर जमीन में औद्योगिक क्षेत्र के लिए उद्योग विभाग को हस्तांतरित की गई है।

भ्रष्टाचारी राजस्व निरीक्षक को विशेष न्यायालय लोकायुक्त ने सुनाई 4 साल की कठोर कारावास सजा

इसमें मुख्य रूप से खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों की स्थापना की जायेगी। इसी तरह हनुमना तहसील के मदरावल गांव की 43.31 हेक्टेयर जमीन भी एमएसएमई विभाग को औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने के लिए निर्धारित की गई है। इन दोनों स्थानों में औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना के प्रस्ताव शासन को भेजे गये हैं।

8 साल बाद भी बेला-सतना फोरलेन का प्रोजेक्ट अधूरा : प्रशासनिक अनदेखी से ठेका कंपनी की मनमानी जारी, कोरोना का बहाना कर फिर एक्सटेंशन की तैयारी

तीसरा औद्योगिक केन्द्र होगा

महाप्रबंधक ने बताया कि घूमा कटरा एमएसएमई विभाग का तीसरा औद्योगिक केन्द्र होगा। यह केन्द्र इलाहाबाद, मिर्जापुर तथा बनारस के उद्यमियों के लिए उपयुक्त रहेगा। गत वर्ष रीवा में आयोजित औद्योगिक विकास कार्यशाला में उत्तरप्रदेश के कई उद्यमियों ने रीवा जिले में उद्योगों की स्थापना में रूचि दिखाई थी। जिले में निवेश करने वाले उद्यमियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए नए औद्योगिक क्षेत्रों के विकास का प्रस्ताव भेजा गया है। नये औद्योगिक क्षेत्र विकसित होने से रोजगार के अवसर विकसित होंगे।

Powered by Blogger.