MP : कॉन्स्टेबल ने महिला से दोस्ती बाद किया दुष्कर्म, फिर दूसरी गर्लफ्रेंड से बनवाया वीडियो, धमकी देकर 2 साल तक किया शोषण : पुलिस ने गर्लफ्रेंड को भी बनाया आरोपी

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

      

राजधानी भोपाल में शुक्रवार को दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोप है कि पुलिस कॉन्स्टेबल ने महिला से दोस्ती करने के बाद उसके साथ रेप किया। इस दौरान कॉन्स्टेबल की गर्लफ्रेंड ने उसका वीडियो बनाया। आरोपी वीडियो वायरल करने की धमकी देकर दो साल तक शोषण करता रहा। यही नहीं महिला का आरोप है कि उसका एक बेटा है, जिसका पिता आरोपी कॉन्स्टेबल है। महिला की शिकायत पर कॉन्स्टेबल के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने कॉन्स्टेबल की गर्लफ्रेंड को भी आरोपी बनाया है।

रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर : अब बीना-कटनी, भोपाल समेत इन जगहों का ले सकेंगे पास सुविधा का लाभ

पुलिस के मुताबिक, 30 वर्षीय महिला अपने पति से अलग रहती है। अक्टूबर 2018 में शाहजहांनाबाद थाने में पदस्थ कॉन्स्टेबल राहुल जाट से सोशल मीडियो के जरिए उसकी दोस्ती हुई। इसके बाद दोनों की बातचीत होने लगी। दोस्ती बढ़ने के बाद राहुल उसे घुमाने के बहाने जहांगीराबाद इलाके में ले गया। यहां एक घर में राहुल ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इस दौरान कॉन्स्टेबल की दूसरी गर्लफ्रेंड भी मौजूद थी। उसने दुष्कर्म का वीडियो भी बना लिया। वीडियो वायरल करने की धमकी देकर राहुल शोषण करता रहा। पीड़ित ने जब थाने में शिकायत करने की धमकी दी, तो कॉन्स्टेबल ने उससे शादी करने की बात कही।

संकटमोचन बने नरोत्तम : सुपरमैन बनकर 3 महिलाओं बाद 6 पुरुषों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया

शादी की बात से कर दिया था इनकार

महिला का आरोप है कि उसका सवा साल का एक बेटा है। जिसका पिता राहुल जाट का है। पिछले दिनों महिला ने जब राहुल पर शादी का दबाव बनाया, तो राहुल ने खुद को ऊंची जाति का बताते हुए जातिसूचक शब्द बोलकर शादी से इनकार कर दिया था। इसके बाद पीड़ित ने महिला थाने में शिकायत दर्ज कराई।

लॉ एंड ऑर्डर की बैठक : देशभर में 20 करोड़ रुपए से अधिक के मनी लॉन्ड्रिंग नेटवर्क का खुलासा : नेटवर्क से जुड़े 8 मुख्य अपराधी गिरफ्तार

आरोपी पुलिस में है या नहीं इसकी जांच की जा रही है

इधर, महिला थाना प्रभारी अजिता नायर ने बताया कि पीड़ित ने बयान में राहुल को कॉन्स्टेबल बताया है। वह कॉन्स्टेबल है या नहीं, इसकी पुष्टि उसकी गिरफ्तारी के बाद हो पाएगी। इधर, शाहजहांनाबाद टीआई जहीर खान ने बताया कि राहुल जाट नाम का सिपाही डेढ़ साल पहले शाहजहांनाबाद थाने में पदस्थ था। इसके बाद उसका ट्रांसफर हो गया था।

Powered by Blogger.