REWA : एक माह पहले हुई मारपीट में घायल ने तोडा दम : आर्थिक मदद की मांग करते परिजनों ने थाने के सामने शव रखकर किया प्रदर्शन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

रीवा जिले के गढ़ थाना अंतर्गत बरहट में एक माह पहले मारपीट में घायल चरवाहे ने दम तोड़ दिया है। मौत के बाद प्रयागराज से शव लेकर लौटे परिजन आक्रोशित हो गए। वे आरोपी की गिरफ्तारी व आर्थिक मदद की मांग करते हुए थाना के सामने शव रखकर प्रदर्शन करने गले।

इंस्टाग्राम की अश्लील साइट पर अज्ञात व्यक्ति ने युवती का फोन नंबर डाला, परेशान होकर युवती पहुंची थाने : आईटी एक्ट का मामला दर्ज

हालांकि परिजनों के आक्रोश को देखते हुए आनन फानन में एसडीओपी संतोष निगम मौके पर पहुंचे। साथ ही तत्काल टीम गठित कर आरोपी को कांकर गांव से गिरफ्तार कर लिया है। तब कहीं जाकर परिजन शव घर ले जाने पर राजी हुए है।

अतिक्रमण हटाने पहुंचे अधिकारियों को आरोपी ने दी गाली, फिर खुद पर ब्लेड मार केरोसीन डालकर आग लगाने की कोशिश : गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

मिली जानकारी के मुताबिक गढ़ थाना क्षेत्र के बरहट ग्राम निवासी केदार पाल (48) के साथ 11 जुलाई को मारपीट हुई थी। दावा है कि वह उस समय भेड़ चरा कर लौट रहा था। इसी दौरान कांकर निवासी रामचन्द्र सिंह गहरवार ने वहां पहुंच गाली-गलौज शुरू कर दी। आरोपी ने कहा कि यहां भेड़ क्यों लाए हो। इस बात पर कहासुनी हुई और आरोपी ने राड से पिटाई शुरू कर दी। जिससे केदार को गंभीर चोट आई।

नायब तहसीलदार के अभद्र व्यवहार का वीडियो वायरल : बेरोजगार युवाओं को दे दी मां-बाप को मारने की सलाह

रीवा में इलाज के बाद प्रयागराज में तोड़ा दम

बताया गया कि पुलिस को सूचना देकर घायल केदार को पहले नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जहां लगभग 15 दिनों तक उसका उपचार चला रहा।

एमपी-यूपी बॉर्डर नेशनल हाईवे के किनारे नग्न अवस्था में मिली युवक की डेड बॉडी : शव मिलने से हड़कंप : सोशल मीडिया में भी फोटो वायरल

एसजीएमएच से छुट्टी मिलने पर केदार को परिजन घर ले गए। लेकिन घर पहुंचते ही उसकी तबियत अचाकन बिगड़ी और उसे इलाज के लिये प्रयागराज ले जाया गया। बताते हैं कि 11 अगस्त को आपरेशन किया गया। जहां 13 अगस्त की दोपहर मौत हो गई।

शादी का झांसा देकर युवती के साथ 4 साल तक बिजली कंपनी का असिस्टेंट इंजीनियर संबंध बनाते करता रहा दैहिक शोषण : दुष्कर्म का मामला दर्ज

शाम से लेकर रात तक चला प्रदर्शन

पुलिस ने बताया कि शाम को प्रयागराज से शव लेकर आए परिजन गढ़ थाना के सामने प्रदर्शन शुरू कर दिए। परिजनों की मांग थी कि आरोपी को गिरफ्तार किया जाय। इसके साथ ही इलाज में खर्च हुए 3 लाख रुपये शासन द्वारा दिलाई जाय।

बाइक सवार को पीछे से आ रहे तेज रफ़्तार ट्रक ने पीछे से कुचला : मोबाइल पर बात कर रहा था युवक, सिर हुआ धड़ से अलग : नहीं हुई मृतक की शिनाख्त

शुक्रवार की रात 8 बजे तक चले बवाल के बाद मनगवां एसडीओपी संतोष निगम मौके पर पहुंच गए। इसके बाद टीम गठित कर आरोपी को पकड़ने कांकर गांव भेजी। जहां से आरोपी को गिरफ्तार कर थाने लाया गया है। फिर भी रात 9 बजे तक आर्थिक मदद की मांग को लेकर मृतक के परिजन थाने के बाहर डटे रहे।

Powered by Blogger.